scorecardresearch
 

Bhuvneshwar Kumar वर्ल्डकप में क्या होगा भुवनेश्वर कुमार का रोल? जसप्रीत बुमराह लौटे तो क्या प्लेइंग-11 में मिलेगी जगह

भुवनेश्वर कुमार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए टी-20 मुकाबले में विलेन बनकर सामने आए. पिछले एक साल में वह टीम इंडिया के सबसे सफल बॉलर रहे हैं, साथ ही टी-20 वर्ल्डकप स्क्वॉड का एक अहम हिस्सा भी हैं. अभी जसप्रीत बुमराह टीम में नहीं हैं, लेकिन जब उनकी वापसी होगी तो भुवी का रोल क्या होगा यह जानना भी जरूरी है.

X
Bhuvneshwar Kumar (PTI) Bhuvneshwar Kumar (PTI)

टीम इंडिया के लीड बॉलर भुवनेश्वर कुमार एक बार फिर आलोचकों के निशाने पर हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहाली में खेले गए पहले टी-20 मैच में भुवनेश्वर कुमार ने जमकर रन लुटवाए, यही टीम इंडिया की हार का एक कारण भी बना. ऐसे में अब टी-20 वर्ल्डकप को लेकर फिर चिंता बढ़ने लगी है, क्योंकि भुवनेश्वर कुमार टी-20 वर्ल्डकप के स्क्वॉड का भी हिस्सा हैं. 

भुवनेश्वर कुमार का रोल क्या? 

एक वक्त पर भुवनेश्वर कुमार टी-20 टीम से बाहर हो गए थे, लेकिन फिटनेस पर काम करने के साथ-साथ उन्होंने आईपीएल में बेहतर प्रदर्शन किया. इसी वजह से उनकी टी-20 टीम में वापसी हुई थी, वापसी के बाद से ही भुवनेश्वर कुमार ने लगातार बेहतर नतीजे भी दिए. यही वजह रही कि उनका टी-20 वर्ल्डकप के लिए चयन भी हो गया. 

आईपीएल में भुवनेश्वर कुमार अक्सर अपने अधिकतर ओवर पावरप्ले या शुरुआती 10 ओवर में ही पूरे कर देते हैं. यही उनकी ताकत भी रही है, पावरप्ले में जब विरोधी टीम रन बनाने की कोशिश करती है तब वह बल्लेबाजों को मुश्किल में डालते हैं. आईपीएल के दौरान भुवनेश्वर कुमार की यही ताकत रही, जिसे उन्होंने टीम इंडिया के लिए भी लागू किया. 

क्लिक करें: भुवी का 19वां ओवर मतलब हार की गारंटी, वो मौके जब इस फैसले ने डुबा दी टीम इंडिया की लुटिया

हालांकि, डेथ ओवर्स भुवनेश्वर कुमार के लिए एक चिंता का विषय रहा है. वो चाहे आईपीएल हो या फिर टीम इंडिया, इसी का उदाहरण पिछले कुछ मैच में देखने को मिला है. जहां भुवनेश्वर कुमार को 19वां ओवर सौंपा गया और तीन बार उन्होंने टीम इंडिया की लुटिया डुबवा दी. 

बुमराह वापस आए तो?

पिछले कुछ महीने में जसप्रीत बुमराह और हर्षल पटेल टीम इंडिया का हिस्सा नहीं थे, इसी वजह से भुवनेश्वर कुमार लीड बॉलर के तौर पर उभरे. लेकिन अब दोनों की वापसी हो गई है, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी-20 मैच में जसप्रीत बुमराह नहीं खेले थे लेकिन दूसरे टी-20 से वह मैदान में वापसी कर सकते हैं. 

अगर जसप्रीत बुमराह वापस आते हैं, तो टीम इंडिया की डेथ ओवर्स की चिंता खत्म हो सकती है. ऐसे में जो फॉर्मूला आईपीएल में लागू किया जाता है, यानी भुवनेश्वर कुमार यहां भी शुरुआत में ही अपने कोटे के अधिकतर ओवर पूरे कर सकते हैं और विरोधी टीम को शुरुआती झटके दे सकते हैं. हालांकि, तब भी डेथ ओवर्स में उनका फेल होना टीम इंडिया के लिए एक चिंता का ही विषय रहेगा. 

2022 में टीम इंडिया के लिए सबसे बेहतर प्रदर्शन (टी-20 में) 
-    भुवनेश्वर कुमार- 23 मैच, 31 विकेट
-    युजवेंद्र चहल- 17 मैच, 20 विकेट
-    हर्षल पटेल- 16 मैच, 19 विकेट

साल 2022 में भुवनेश्वर कुमार (टी-20 में)
23 मैच, 22 पारी, 31 विकेट, बेस्ट: 5/4, इकॉनोमी 6.97 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें