scorecardresearch
 

ICC में हारा पाकिस्तान, अब खर्च वसूलने को भारत करेगा केस

विनोद राय ने कहा कि बीसीसीआई अब पाकिस्तान के खिलाफ मुआवजे का मामला दायर करेगा और मध्यस्थता मामले पर हुए खर्च की भरपाई की मांग करेगा.

बीसीसीआई (लोगो) बीसीसीआई (लोगो)

भारत के खिलाफ पाकिस्तान के मुआवजे के दावे को खारिज किए जाने के बाद पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) से मुकदमे का खर्च वसूलने के लिए आईसीसी की विवाद निवारण समिति के समक्ष मामला दायर करेगा. आईसीसी की विवाद निवारण समिति ने मंगलवार को भारत के खिलाफ पाकिस्तान के दावे को खारिज कर दिया. पीसीबी ने बीसीसीआई पर द्विपक्षीय सीरीज पर एमओयू का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाया था.

बीसीसीआई ने बयान में कहा, ‘दुबई में तीन दिन तक दोनों पक्षों के साक्ष्य और जिरह पर सुनवाई के बाद, विवाद निवारण समिति ने पीसीबी के सभी दावे खारिज कर दिए और बीसीसीआई के पक्ष को स्वीकार किया जो इस आधार पर था कि बीसीसीआई का पत्र बाध्यकारी नहीं था और यह सिर्फ खेलने की इच्छा जताई गई थी.’

बयान के अनुसार कहा, ‘बीसीसीआई तहेदिल से विवाद निवारण समिति के फैसले का स्वागत करता है. बीसीसीआई अब पीसीबी से मुकदमे का खर्चा वसूलने के लिए विवाद निवारण पैनल की शरण में जाएगा.’

इस बार भारत से मैदान के बाहर हारा पाकिस्तान, ICC ने सुनाया फैसला

प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय ने पीटीआई से कहा, ‘हमें खुशी है कि हमारा रुख सही साबित हुआ. पीसीबी जिसे एमओयू कह रहा है वह असल में प्रस्ताव पत्र है.'

पीसीबी ने इस फैसले पर निराशा जताई और कहा कि फैसले को पढ़ने के बाद वे अपने विकल्पों पर विचार करेंगे. पीसीबी ने बयान में कहा, ‘पीसीबी विवाद निवारण समिति के फैसले पर खेद जताता है.’ आईसीसी ने पीसीबी के मुआवजे दावे पर विचार के लिए तीन सदस्यीय विवाद निवारण समिति गठित की थी. इस मामले की सुनवाई एक से तीन अक्टूबर तक आईसीसी के मुख्यालय में हुई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें