scorecardresearch
 

CWG में भारतीयों ने कैसे क‍िए मैदान फतह? देखें हौसलों से कामयाबी तक के सफर

CWG में भारतीयों ने कैसे क‍िए मैदान फतह? देखें हौसलों से कामयाबी तक के सफर

अगर आप प्रतिभावान और समर्पित हैं तो कोई भी कठिनाई आपको जीतने से नहीं रोक सकती. कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने वेट लिफ्टिंग में 3 स्वर्ण पदक सहित कुल 10 पदक जीते हैं. ये एक ऐसा खेल है जिसमें कमरतोड़ मेहनत से ही कामयाबी हासिल होती है. जिन भारतीय वेट लिफ्टर्स ने इस बार पदक जीते हैं, उनमें से ज्यादातर गरीब और वंचित परिवारों से आते हैं. कॉमनवेल्थ गेम्स में पंजाब की रहने वाली हरजिंदर कौर ने रजत जीत लिया. हरजिंदर का परिवार एक कमरे के घर में रहता है, उनके पिता खेतों में मजदूरी करते हैं. हरजिंदर खुद पशुओं के लिए चारा काटने की मशीन चलाती रही हैं. इसी वजह से उनके हाथ इतने मजबूत हो गए कि उन्होंने स्नैच यानी एक ही बार में कंधे पर भार लेकर 93 किलो और क्लीन एंड जर्क यानी पहले भार उठाकर सीने तक लाना और फिर उसे पूरा उठाना. इस तरीके से उन्होंने 119 किलोग्राम का वजन उठाया .

If you are talented and dedicated then no difficulty can stop you from winning. In Commonwealth Games, India has won a total of 10 medals including 3 gold medals in weight lifting. India finished in the fourth spot with a total of 61 medals including 22 gold. Watch this journey story of Indian athletes.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें