scorecardresearch
 

कैलाश मानसरोवर यात्रा शुरू, CM हरीश रावत ने दिखाई हरी झंडी

कैलाश मानसरोवर यात्रा शुक्रवार से आरंभ हो गई. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अल्मोड़ा से हरी झंडी दिखाकर 58 श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को रवाना किया.

कैलाश मानसरोवर कैलाश मानसरोवर

कैलाश मानसरोवर यात्रा शुक्रवार से आरंभ हो गई. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अल्मोड़ा से हरी झंडी दिखाकर 58 श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को रवाना किया.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने गुरुवार को दिल्ली से श्रद्धालुओं के जत्थे को रवाना किया था जो शनिवार को धारचुला शिविर पहुंचेगा. इस जत्थे ने शुक्रवार को अल्मोड़ा से अपनी यात्रा आरंभ की.

श्रद्धालु 20 जून को 17,5000 फुट ऊंचे लिपुलकेश दर्रे से होते हुए चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में प्रवेश करेंगे.

इस साल जाएंगे कुल 18 जत्थे
इस तीर्थ यात्रा के लिए नोडल एजेंसी के तौर पर काम करने वाले कुमाउं मंडल विकास निगम (KMVN) के प्रबंध निदेशक धीरज गारबियाल ने कहा, ‘हमें श्रद्धालुओं को अधिक सुविधाएं मुहैया कराने की व्यवस्था की है और सभी रूटों पर 100 से अधिक कर्मचारियों को तैनात किया गया है.’

उन्होंने कहा, ‘इस साल वार्षिक मानसरोवर यात्रा पर 18 से अधिक जत्थों में 1000 से अधिक तीर्थयात्री जाएंगे.’ KMVN के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए धारचुला गाला और मालपा में SDRF जवानों की तीन कंपनियों को तैनात किया गया है.’ इस बार कुल 18 जत्थे कैलाश मानसवरोवर की यात्रा पर जा रहे हैं. हर जत्थे में करीब 60 तीर्थयात्री होंगे.

- इनपुट भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें