scorecardresearch
 

अमरनाथ यात्रा शुरू, पहले जत्थे में रवाना हुए 2000 से ज्यादा श्रद्धालु

श्रद्धालुओं को अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदेरबल जिल के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से अमरनाथ दर्शन के लिए भेजा जा रहा है.

इस वर्ष करीब डेढ़ लाख से भी ज्यादा लोगों ने अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है. इस वर्ष करीब डेढ़ लाख से भी ज्यादा लोगों ने अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है.

अमरनाथ यात्रा पर श्रद्धालुओं का पहला जत्था रविवार को कड़ी सुरक्षा के बीच रवाना हुआ. इस वर्ष करीब डेढ़ लाख से भी ज्यादा लोगों ने अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है. 26 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा के पहले जत्थे में 2000 से भी ज्यादा यात्रियों को अमरनाथ दर्शन के लिए भेजा गया.

श्रद्धालुओं को अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदेरबल जिल के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से अमरनाथ दर्शन के लिए भेजा जा रहा है. अधिकारियों ने बताया कि अब तक देश भर से करीब डेढ़ लाख श्रद्धालुओं ने 46 दिन चलने वाली इस यात्रा के लिए पंजीकरण कराया है.

सूत्रों के मुताबिक बालटाल मार्ग से गुरजने वाले पहले जत्थे में करीब 1051 श्रद्धालु शामिल हैं. इनमें 793 पुरुष, 203 महिलाएं, 10 बच्चे और करीब 45 साधु-संत शामिल हैं. तीर्थयात्रियों की सुविधा और यात्रा के दौरान उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.

वहीं, दूसरी ओर पहलगाम मार्ग से होकर अमरनाथ धाम पहुंचने वाले यात्रियों की संख्या 1183 बताई जा रही है. यात्रियों की सूची में 1046 पुरुष, 130 महिलाएं और करीब 7 बच्चे शामिल हैं. इस मार्ग से गुजरने वाले जत्थे में साधु संत शामिल नहीं है. बता दें कि श्रद्धालु 15 अगस्त तक बाबा अमरनाथ के दर्शन कर सकेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें