scorecardresearch
 

इन ग्रहों के बुरे असर करवाएंगे पाप

कुंडली के नौ ग्रहों  में से कुछ ग्रहों को पाप ग्रह माना गया है. जीवन में इनके असर से न चाहते हुए भी मनुष्य गलत कामों में शामिल होने लगता है. वहीं इनके शुभ प्रभाव से इंसान धर्म की राह पर चलने लगता है.

नौ ग्रहों में से तीन हैं पाप ग्रह नौ ग्रहों में से तीन हैं पाप ग्रह

ज्योतिष के अनुसार कुल नौ ग्रहों में कुछ शुभ होते हैं तो कुछ ग्रहों को पाप ग्रह माना गया है. इनके प्रभाव में आते ही इंसान न चाहते हुए भी पाप में शामिल हो जाता है. शनि, राहु और केतु पाप ग्रह की श्रेणी में आते हैं.

पाप ग्रहों का असर -
- ज्योतिष में शनि, राहु और केतु को पाप ग्रह माना गया है.
- ये ग्रह जीवन को पाप की ओर ले जाते हैं.
- पाप ग्रहों के बुरे प्रभाव में आकर इंसान बिना इच्छा के भी पाप करता है.
- लेकिन कभी-कभी यही पाप ग्रह बहुत शुभ हो जाते हैं.
- शुभ दशाओं में यही पाप ग्रह इंसान को पुण्य और मुक्ति की ओर ले जाते हैं.

शनि के शुभ और अशुभ प्रभाव -
जिस पर शनि का पाप प्रभाव पड़ता है उसका किसी भी काम में मन नहीं लगता. लेकिन शनि जब पुण्य देते हैं तो इंसान खुद के साथ-साथ समाज का भी कल्याण करने वाला बनता है.
- शनि का दुष्प्रभाव होने से इंसान आलसी , लापरवाह और कठोर होता है - इंसान क्षुद्र देवताओं की उपासना करने लगता है.
- मनुष्य साफ-सफाई से नहीं रहता और बुरे कर्म करता है.
- शनि के शुभ परिणाम से इंसान अनुशासित हो जाता है.
- ध्यान और धर्म से ईश्वर की ओर आकर्षित होने लगता है.
- शनि के शुभ फल से इंसान लोगों को सच्चाई और अच्छाई की राह दिखाता है.

कैसे बढ़ाएं शनि का शुभ प्रभाव -
- शनि का शुभ प्रभाव बढ़ाने के लिए हनुमान जी की पूजा करें.
- अपनी क्षमता के अनुसार भोजन, वस्त्र और धन का दान करें.

राहु के प्रभाव -
ज्योतिष के अनुसार राहु दूसरा प्रभावी पाप ग्रह है. जिस इंसान पर राहु का पाप प्रभाव पड़ता है वह झूठ, धोखा, छल और कपट जैसी बुरी आदतों का शिकार हो जाता है. यह पाप ग्रह भी कभी-कभी शुभ का कारक बनता है.
- अशुभ राहु चरित्र पतन और नशे की ओर ले जाता है.
- राहु इंसान को षडयंत्र और दूसरों को परेशान करने की आदत देता है.
- राहु की वजह से इंसान धर्म और आध्यात्म के खिलाफ बोलता है.
- राहु का शुभ प्रभाव हो तो इंसान जन्म से ही सिद्ध होता है.
- ऐसे इंसान में अद्भुत चमत्कारी शक्ति होती है.
- ऐसी दशा में इंसान आध्यात्म की नई राह खोज लेता है.

कैसे बढ़ाएं राहु का शुभ प्रभाव -
- राहु का शुभ प्रभाव बढ़ाने के लिए सात्विक आहार ग्रहण करें.
- शिव जी की उपासना करें.
- रोगियों और विकलांगों की सेवा करें.

पाप ग्रह केतु के प्रभाव -
ज्योतिष में केतु को पाप ग्रह माना गया है. केतु खराब हो तो इंसान को दिशा से भटका देता है. यह पाप करवाता है. लेकिन कभी–कभी यह ग्रह भी आपके लिए बड़ा शुभ फल देने वाला होता है.
- केतु का अशुभ प्रभाव होने से इंसान धर्म और ईश्वर का विरोधी हो जाता है.
- मनुष्य जीवन की हर समस्या के लिए ईश्वर को जिम्मेदार ठहराता है.
- उल्टे-सीधे प्रयोग करके मानसिक रूप से असंतुलित हो जाता है.
- केतु का पुण्य प्रभाव तीर्थ यात्राएं करवाता है.
- इंसान को सद्गुरू देता है और संत बनाता है.
- केतु के पुण्य प्रभाव से अद्भुत व आध्यात्मिक शक्ति मिलती है.
- केतु का शुभ असर इंसान को मुक्ति और मोक्ष भी देता है.

केतु का शुभ प्रभाव बढ़ाने के उपाय -
पाप ग्रह केतु से परेशान हैं तो उसके शुभ प्रभाव बढ़ाने के उपाय करें. फिर यही केतु आपके जीवन में सुख लाएगा -
- रोज स्नान करके भगवान गणेश की उपासना करें.
- तीर्थ स्थानों और मंदिरों की यात्रा करें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें