scorecardresearch
 

चाणक्य नीति: काम शुरू करने से पहले खुद से करें 3 सवाल, मिलेगी सफलता

आचार्य चाणक्य ने कामयाबी, जीवन के उद्देश्यों-मूल्यों, संस्कार, चरित्र, व्यापार, नौकरी समेत सभी महत्वपूर्ण विषयों पर अपनी किताब 'चाणक्य नीति' में उल्लेख किया है. चाणक्य ने नौकरी, व्यवसाय में सफलता पाने के साथ जीवन को सफल बनाने के लिए कई सारी नीतियों का जिक्र किया है.

Chanakya Niti Chanakya Niti

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य ने कामयाबी, जीवन के उद्देश्यों-मूल्यों, संस्कार, चरित्र, व्यापार, नौकरी समेत सभी महत्वपूर्ण विषयों पर अपनी किताब 'चाणक्य नीति' में उल्लेख किया है. चाणक्य ने नौकरी, व्यवसाय में सफलता पाने के साथ जीवन को सफल बनाने के लिए कई सारी नीतियों का जिक्र किया है, जो इस प्रकार है-

आचार्य चाणक्य के मुताबिक, व्यक्ति को इस बात की जानकारी रखनी चाहिए कि हाल का समय कैसा चल रहा है अर्थात सुख के दिन हैं या फिर दुख के दिन. चाणक्य कहते हैं कि जो व्यक्ति अपने समय के अनुसार कार्य और व्यवहार करता है उसे कामयाबी जरूर मिलती है.

चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को अपने सच्चे मित्र के बारे में भी पता होना चाहिए, चाहे वो मित्र नौकरी में हों या फिर व्यापार में हों. चाणक्य आगे कहते हैं कि जो व्यक्ति मित्र के रूप में मौजूद शत्रु की पहचान नहीं कर पाते उन्हें जीवन में सदैव असफलता मिलती है, क्योंकि शत्रु आपको सही सलाह देने की जगह आपके काम को बिगाड़ने की कोशिश में लगे रहते हैं.

चाणक्य कहते हैं कि जहां काम कर रहे हों वहां के हालतों के बारे में हमेशा जानकारी रखनी चाहिए. साथ ही ये भी पता होना चाहिए कि कार्यस्थल पर आसपास के लोग कैसे हैं, क्योंकि इससे व्यक्ति कभी धोखा नहीं खाता है और उसे कामयाबी मिलती है.

वहीं, चाणक्य ये भी कहते हैं कि एक समझदार व्यक्ति सदैव अपनी आमदनी के हिसाब से खर्च करता है और जो व्यक्ति अपनी आय से अधिक खर्च करता है वो हमेशा परेशान रहता है. साथ ही आचार्य चाणक्य ये भी कहते हैं कि कोई व्यक्ति जो भी काम करता है उसे ये पता होना चाहिए कि क्या वो उस काम को कर पाने में सक्षम है, क्योंकि इससे कामयाबी मिलने के ज्यादा आसार रहते हैं, इसलिए हमेशा अपनी क्षमता के अनुसार काम करना चाहिए. 

चाणक्य  कहते हैं कि किसी भी काम को शुरू करने से पहले अपने आप से तीन सवाल जरूर करें कि मैं ये काम क्यों कर रहा हूं? इस काम का परिणाम क्या होगा? और क्या मुझे कामयाबी मिलेगी? जब इन तीन चीजों का जवाब मिल जाए तो अपने कदम आगे बढ़ाएं.

वहीं, आचार्य चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को अपने हालात बदलने की हमेशा कोशिश करनी चाहिए. अगर आपको कामयाबी नहीं भी मिल पाए तो भी हार नहीं मानें और कोशिश जारी रखें.

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें