scorecardresearch
 

मैं भाग्य हूं: तन की सुंदरता से बड़ी होती है मन की सुंदरता

आपके जीवन में जो घटित होता है. उसकी योजना ईश्वर ने पहले से ही तय कर रखी होती है पर इस बात को गांठ बांध लीजिए. ईश्वर हो या मैं आपकी किसी भी परिस्थिति‍ के पीछे कोई पूर्व नियोजित नीति नहीं होती. बल्कि ये तो आपके कर्म होते हैं. जिनके फलस्वरूप आपको सुख और दुख मिलता है. यदि आप एक सुखद जीवन की कल्पना करते हैं, तो याद रखिए एक सुंदर और सुखद जीवन की कल्पना सिर्फ सच्ची सुंदरता से ही की जा सकती है. सच्ची सुंदरता कभी बाहरी नहीं हो सकती है. जो व्यक्ति मन से सुंदर होता है उसकी ख्याति तन से सुंदर व्यक्ति से ज्यादा होती है.   

Main Bhagya Hoon brings to you interesting stories that help you in becoming a better person. Also, know the astrological prediction for your zodiac sign for January 23. Watch the full episode here.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें