scorecardresearch
 

मैं भाग्य हूं: अच्छे कर्मों से चमकेगा भाग्य

मैं भाग्य हूं, ये संसार कर्म प्रधान है, यहां बिना कर्म के कुछ भी संभव नहीं है. कर्म के बिना ना तो भाग्य चमकता है ना ही जीवन नैया भवसागर के पार जा सकती है इसलिए कर्म करना जरूरी है. देखें- 'मैं भाग्य हूं' का ये पूरा वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें