scorecardresearch
 

10 तक: बंगाल में मतदान के दौरान हुई TMC-BJP की लड़ाई के सामने चुनाव आयोग फेल!

10 तक: बंगाल में मतदान के दौरान हुई TMC-BJP की लड़ाई के सामने चुनाव आयोग फेल!

चौथे चरण का मतदान जैसे तैसे निपट गया, लेकिन एक बात फिर से साबित हो गई कि चुनाव बदल जाते हैं लेकिन आईना वही रहता है. बंगाल चलिए, चुनाव आयोग का खुलेआम माखौल उड़ाया गया. तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ा. पीठासीन अधिकारी से बदसलूकी पर आयोग को बाबुल सुप्रियो के खिलाफ एफआईआर करानी पड़ी. बंगाल के आसनसोल से बीजेपी का सबसे बड़ा चेहरा चुनाव लड़ रहा है, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो और उनके खिलाफ टीएमसी से हैं बांग्ला सिनेमा की एक जमाने की सुपर स्टार मुनमुन सेन. चेहरा ढंके हुए हंगामा ब्रिगेड सुबह से बूथ पर डट गया था. ऐसे में जब बाबुल सुप्रियो अपने लाव लश्कर के साथ बूथ फर जलवाफरोश हुए तो शांतिपूर्ण मतदान के सारे दावे लहकते हुए तवे पर बूंदभर पानी की तरह छांय से उड़ गए.चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़लेटर

Hours into the fourth phase of polling in Lok Sabha elections, Asansol in West Bengal was gripped in violence as workers of BJP and Trinamool Congress clashed with each other and police lathicharged on the crowd. The BJP MP and the Asansol candidate, Babul Supriyo was also vandalised in the clashes. Not only this TMC workers are also attacking on media personnel.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें