scorecardresearch
 

MP: घोड़ी की जगह बुलडोजर पर निकली सिविल इंजीनियर दूल्हे की बारात, जानिए वजह

शादी को यादगार बनाने के लिए सिविल इंजीनियर दूल्हा घोड़ी पर नहीं बुलडोजर पर बैठकर दुल्हन को लेने पहुंचा. दूल्हे अंकुश का कहना है कि उनकी हमेशा से तमन्ना थी कि वो अपनी बारात को बुलडोजर से लेकर जाएं.

X
बुलडोजर पर बैठकर दूल्हा बारात लेकर गया  बुलडोजर पर बैठकर दूल्हा बारात लेकर गया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बुलडोजर पर बैठकर निकली बारात
  • पेशे से सिविल इंजीनियर है दूल्हा

मध्य प्रदेश के बैतूल में एक शादी चर्चा का विषय बनी हुई है. जहां पर सिविल इंजीनियर दूल्हा घोड़ी पर नहीं बुलडोजर पर बैठकर आया. अपनी शादी को यादगार बनाने का ये नायाब तरीका सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. दरअसल दूल्हा अंकुश जायसवाल पेशे से सिविल इंजीनियर है और टाटा कंसल्टेंसी में काम करते हैं. वो इन दिनों मध्य प्रदेश के राजगढ़ में एक प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं. 

अंकुर की शादी बैतूल के पाढर निवासी स्वाति मालवीय से हुई. मंगलवार को अंकुश दूल्हन को लेने बुलडोजर लेकर उसके घर पहुंचे. अंकुर के दोस्तों ने इस बारात को खूब एन्जॉय किया.  बारात घर से हनुमान मंदिर तक पहुंची इस अद्भुत नजारे को देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी लोग अपने मोबाइल से नजारे को कैद करने लगे. 

 

अंकुश का कहना है कि वो पेशे से सिविल इंजीनियर हैं उनका हमेशा से सपना था कि वो घोड़ी पर नहीं बल्कि जेसीबी मशीन पर बैठकर अपनी दुल्हन लेने जांए. शुरुआत में परिजन इसके लिए तैयार नहीं थे पर वो बाद में मान गए. बुलडोजर पर बारात निकलने से उनकी शादी यादगार हो गई.  

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें