scorecardresearch
 

साहित्य आजतक: 'उससे कह दो की जल्द लौट आए, आरजू देर तक नहीं रहती'

साहित्य आजतक 2019 के तीसरे और आखिरी दिन मुशायरे की महफिल सजी. इस मुशायरे में कई जाने-माने शायर शामिल हुए.  साहित्य आजतक 2019 में हुए मुशायरे में शायर जीशान नियाजी भी शामिल हुए. इस वीडियो में सुने जीशान नियाजी के शानदार शेर.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें