scorecardresearch
 

क्या गर्भावस्था में ग्रीन टी पीना फायदेमंद है?

संतुलित मात्रा में ग्रीन टी लेना फायदेमंद होता है लेकिन अगर आप बहुत अधि‍क मात्रा में ग्रीन टी ले रही हैं तो ये खतरनाक भी हो सकता है.

गर्भावस्था में ग्रीन टी पीना गर्भावस्था में ग्रीन टी पीना

बीते कुछ सालों में ग्रीन टी की लोकप्रियता काफी बढ़ गई है. दूसरी हर चाय की तुलना में ग्रीन टी में सबसे अधिक मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं. इसके अलावा ग्रीन टी में और भी कई पोषक तत्व पाए जाते हैं. वजन घटाने, दिल को सुरक्षित रखने, बाल और त्वचा की देखभाल के लिए भी ग्रीन टी एक बेहतरीन उपाय है.

गर्भावस्था में ग्रीन टी पीना सही होता है या नहीं, इस बात को लेकर अब भी भ्रम है. एक ओर जहां ग्रीन टी में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो फायदेमंद होते हैं वहीं इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि इसमें मौजूद कैफीन मां और गर्भ में पल रहे बच्चे दोनों के लिए खतरनाक हो सकता है.

संतुलित मात्रा में ग्रीन टी लेना फायदेमंद होता है लेकिन अगर आप बहुत अधि‍क मात्रा में ग्रीन टी ले रही हैं तो ये खतरनाक भी हो सकता है.

बहुत अधिक मात्रा में ग्रीन टी पीने के नुकसान:

- गर्भावस्था में फॉलिक एसिड लेना मां और बच्चे दोनों के लिए जरूरी होता है. इसकी कमी से बच्चे का पूर्ण दिमागी विकास नहीं हो पाता है. ऐसे में अगर आप बहुत अधि‍क मात्रा में ग्रीन टी लेती हैं तो आपके बच्चे को फॉलिक एसिड का पूरा फायदा नहीं मिल पाता है.

- बहुत अधि‍क मात्रा में ग्रीन टी पीने से आयरन के अवशोषण में समस्या आती है. जिसके कारण हीमोग्लोबीन का उत्पादन नहीं हो पाता है और मां-बच्चे को एनिमिया होने की आशंका बढ़ जाती है.

- बहुत अधिक मात्रा में ग्री टी पीने से मेटाबॉलिज्म दर बढ़ जाती है. गर्भावस्था में मेटाबॉलिज्म की दर यूं ही बढ़ी होती है. ऐसे में इसका और बढ़ जाना मां और बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें