scorecardresearch
 

गर्भवती की अनूठी लत, कच्चे आमों की जगह खाती है साबुन, पीती है सेनेटाइजर

आपने सुना होगा कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कच्चे आम, इमली या खटाई खाने का मन करता है, लेकिन इस महिला को एक ऐसी चीज की क्रेविंग है, जिस पर आप शायद यकीन भी नहीं कर पाएं.

Symbolic Image Symbolic Image

आपने सुना होगा कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कच्चे आम, इमली या खटाई खाने का मन करता है, लेकिन इस महिला को एक ऐसी चीज की क्रेविंग है, जिस पर आप शायद यकीन भी नहीं कर पाएं.

26 साल की जेस गेफोर्ड आठ महीने की गर्भवती हैं और उनका मन साबुन खाने के लिए मचलता है. जी हां, आपने सही पढ़ा, गेफोर्ड साबुन की टिकिया को ठीक वैसे ही खाती हैं जैसे हम और आप बिस्कुट. ये लत यहीं तक सीमित नहीं है, जेस सप्ताह में दो बोतल लिक्विड सोप भी पी जाती हैं.

ब्रिस्टल में रहने वाली जेस दूसरी बार मां बनने जा रही हैं. जेस बताती हैं कि ये अजीबोगरीब आदत उन्हें हमेशा से नहीं थी. एकबार उन्होंने डव सोप को चखा था और उसके बाद से वो इसकी लती बन गईं. हालांकि जेस की इस अनूठी आदत की वजह से उनके साथी ली काफी चितिंत थे. उन्हें डर था की जेस की इस आदत का असर उनके बच्चे के विकास पर पड़ेगा, लेकिन डॉक्टरों ने उनकी इस चिंता को दूर कर दिया.

डॉक्टरों ने उन्हें बताया की बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है. अपनी इस विचित्र आदत के चलते खुद जेस भी काफी परेशान हैं. उनका कहना है की अपने पहले बच्चे के जन्म के दौरान उन्हें बेक की हुई चीजें खाने का दिल करता था. उनका मानना है कि वे एक ऐसी स्थि‍ति से गुजर रही हैं, जिसमें खाने-पीने की चीजों से मन उचट जाता है और बालू, बर्फ, साबुन जैसी चीजें खाने का मन करता है. ऐसा ज्यादातर गर्भवती महिलाओं और बच्चों के साथ होता है.

गर्भावस्था के दौरान हार्मोन में काफी बदलाव आते हैं, जिसकी वजह से खान-पान, पसंद-नापसंद पर खासा प्रभाव पड़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें