scorecardresearch
 

जानिए गर्भावस्था के दौरान अखरोट खाने के फायदे

बच्चे के दिमाग के विकास के लिए गर्भवती महिलाओं को ड्राई फ्रूट्स खाने की सलाह दी जाती है और इसमें भी अखरोट खाना बहुत ही फायदेमंद होता है.

गर्भवती महिलाओं को खाना चाहिए अखरोट गर्भवती महिलाओं को खाना चाहिए अखरोट

गर्भवास्था के समय महिलाओं का स‍ही खानपान बच्चे के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है और इसलिए मां की सेहत को दुरुस्त रखने के लिए उन्हें पौष्टिक और स्वास्थवर्धक भोजन दिया जाता है. फ्रूट, जूस, हरी सब्जियों के साथ ही फाइबर और प्रोटीन की संतुलित मात्रा मां और बच्चे दोनों को स्वस्थ रखने में सहायक होती है.

बच्चे के दिमाग के विकास के लिए गर्भवती महिलाओं को ड्राई फ्रूट्स खाने की सलाह दी जाती है और इसमें भी अखरोट खाना बहुत ही फायदेमंद होता है. अखरोट किस तरह मां और बच्चे के लिए है लाभकारी आइए जानें:

- अखरोट में फैटी एसिड होता है जो बच्चे को फूड एलर्जी के जोखिम से बचाता है. इसे खाने से बच्चे की ग्रोथ के लिए आवश्यवक तत्व भी मिलते हैं.
- अखरोट ऊर्जा का बेहतर स्रोत है. साथ ही इसमें शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्व, मिनरल्स, एंटीआक्सीडेंट्स, ओमेगा-3, फैटी एसिड और विटामिन्स प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं जो मां और बच्चे के लिए बहुत लाभकारी होते हैं.
- अखरोट में पोटेशियम, सेलेनियम, कैल्शियम, मैंगनीज, कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम और जिंक जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं जो बच्चे के दिमाग के विकास में मदद करते हैं. गर्भावस्था के दौरान अखरोट खाने से कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और हाई बीपी को कंट्रोल करने में मदद मिलती है.
- अखरोट में मौजूद कॉपर भ्रूण के सामान्य विकास के लिए आवश्यक है। अखरोट में मौजूद फैटी एसिड (अल्फा-लिनोलेनिक एसिड) बच्चे के दांतों और हड्डियों के विकास में मदद करता है.
- अखरोट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन ई, पॉलीफिनॉल और कॉपर मां की इम्युनिटी बढ़ाते हैं.
- अखरोट गर्भावस्था के दौरान शरीर के आंतरिक सूजन को कम करके ब्लड सर्क्यूलेशन को बढ़ता है. इससे बच्चे तक ज्यादा खून पहुंचता है.
- वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है जिससे मां डायबिटीज के खतरे से भी बची रहती है.
- अखरोट खाने से गर्भवती महिलाओं में मेलाटोनिन नाम का हार्मोन बनता है जिससे उन्हें अच्छी नींद आती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें