scorecardresearch
 

अमिताभ के बाद 5वीं की स्टूडेंट बता रही है 'No Means No'

अमिताभ के बाद पांचवीं क्लास में पढ़ने वाली एक बच्ची ने भी ना का मतलब समझाया है. Zoe की बातें दुनियाभर के पुरुषों को सुननी चाहिए. Zoe ने अपने नोट में बताया है कि पुरुषों को महिलाओं की अलग-अलग बातों को किस तरह लेना चाहिए.

X
पांचवी की स्टूडेंट ने सिखाया अमिताभ वाला पाठ पांचवी की स्टूडेंट ने सिखाया अमिताभ वाला पाठ

क्या आपने अमिताभ बच्चन, तापसी पन्नू स्टारर पिंक देख ली है? नहीं देखी है तो बता दें कि फिल्म का सार यही है कि लड़की की 'ना' का मतलब 'ना' होता है.

अमिताभ फिल्म के अंत में हर दलील और सुबूत के बाद सिर्फ एक बात कहते हैं... 'जज साहब, अगर कोई लड़की ना कह रही है तो उसका मतलब सिर्फ ना है. ना कोई शब्द नहीं, एक पूरा वाक्य है. No Means No '

अमिताभ के बाद पांचवीं क्लास में पढ़ने वाली एक बच्ची ने भी ना का मतलब समझाया है. Zoe की बातें दुनियाभर के पुरुषों को सुननी चाहिए. Zoe ने अपने नोट में बताया है कि पुरुषों को महिलाओं की अलग-अलग बातों को किस तरह लेना चाहिए.

Zoe ने कुछ नियम-कायदे बनाए हैं. पहली नजर में आपको ये नियम, कायदे-कानून बहुत बचकाना लग सकते हैं लेकिन गौर से पढ़ने पर आपको लगेगा कि हर औरत के पास अपनी एक ऐसी ही गाइड लाइन होनी चाहिए. ट्विटर यूजर Denny Dimples ने ये लिस्ट पोस्ट की है.

आप भी पढ़िए ये लिस्ट और हो सके तो अपने लिए भी कोई ऐसी ही लिस्ट बना लीजिए ताकि मुसीबत बढ़ने से पहले ही आप उसे संभाल लें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें