scorecardresearch
 

आप सेक्सुअली एक्टिव हैं? गाइनेकोलॉजिस्ट पूछें ये सवाल तो शरमाएं नहीं लड़कियां, झूठ पड़ेगा भारी

Sex Life related Question: सेक्सुअल हेल्थ पर भारत में अभी भी महिलाओं को खुलकर बात करने में हिचकिचाहट होती है. इस बारे में खुलकर बात ना करने पर कई बार महिलाओं को आगे चलकर दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. ऐसे में जरूरी है कि आप गायनेकोलॉजिस्ट के इन सवालों का जवाब बिना हिचकिचाए दें.

X
Gyne के इन 7 सवालों का जवाब ना देना महिलाओं को पड़ सकता है भारी (Photo/credit: Getty Images) Gyne के इन 7 सवालों का जवाब ना देना महिलाओं को पड़ सकता है भारी (Photo/credit: Getty Images)

रिप्रोडक्टिव हेल्थ को मेनटेन रखने के लिए हर महिला के लिए जरूरी है कि वह गायनेकोलॉजिस्ट के पास जाकर नियमित रूप से अपना चेकअप कराएं. लेकिन बहुत सी महिलाएं ऐसी हैं जो अपनी सेक्सुअल हेल्थ के बारे में बताने से कतराती हैं. इंटीमेट हेल्थ से जुड़ी समस्याओं को लेकर गायनेकोलॉजिस्ट से खुलकर बात ना करना कई बार आपके लिए काफी महंगा साबित हो सकता है. ऐसे में जरूरी है कि आप गायनेकोलॉजिस्ट की तरफ से पूछे गए सवालों का बिना शर्माते हुए जवाब दें. चेकअप के दौरान आपकी इंटीमेट हेल्थ को लेकर गायनेकोलॉजिस्ट आपसे कई तरह के सवाल पूछ सकती हैं. आइए जानते हैं उन सवालों के बारे में जिनका जवाब आपको बिना हिचकिचाए देना चाहिए. 

क्या आप सेक्सुअली एक्टिव हैं?

डॉक्टर का ये सवाल हालांकि आपको बकवास लग सकता है. लेकिन इस सवाल के जवाब के आधार पर ही डॉक्टर यह डिसाइड करते हैं कि आपको कौन से टेस्ट करवाने हैं. एक गायनेकोलॉजिस्ट के मुताबिक, आप जितनी जानकारी डॉक्टर के साथ साझा करती हैं उसी के हिसाब से आपकी देखभाल की जाती है.

आपके कितने सेक्सुअल पार्टनर रह चुके हैं?

 इस सवाल का जवाब देने में अक्सर महिलाएं कतराती हैं. अगर आप पिछले 15 सालों से किसी एक ही पार्टनर के साथ रह रही हैं तो डॉक्टर आपको STD टेस्ट ना करवाने का सुझाव दे सकते हैं. लेकिन अगर आपने एक ही महीने में तीन अलग-अलग लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाए हैं तो  डॉक्टर आपको STD टेस्ट करवाने के लिए बोल सकते हैं. 

क्या हर महीने आपके पीरियड्स समय पर आते हैं?

 महिलाओं में रेगुलर पीरियड साइकिल 28 दिनों का होता है. डेट से तीन-चार दिन आगे-पीछे पीरियड्स का आना कॉमन होता है लेकिन अगर यह गैप काफी ज्यादा हो तो इसे अनियमित पीरियड्स कहा जाता है. पीरियड्स रेगुलर ना होना कई बार काफी सीरियस हो सकता है. ऐसा होने पर डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए. 

सेक्स करने के दौरान या बाद में दर्द और ब्लीडिंग?

सेक्स के दौरान या बाद में अगर कभी-कभी आपकी वजाइना या पेल्विस में दर्द होता है तो इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं होती. हालांकि अगर आपको हर बार सेक्स के दौरान या बाद में दर्द का सामना  करना पड़ता है तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए. इसके लिए डॉक्टर आपको बेसिक वजाइनल इंफेक्शन के टेस्ट या एंडोमेट्रियोसिस करवाने के लिए बोल सकते हैं. 

क्या आपके वजाइनल डिस्चार्ज या स्मेल में कोई बदलाव आया है?

बहुत सी महिलाओं को इस सवाल का जवाब देने में हिचकिचाहट होती है. जिस कारण कई बार डॉक्टर भी महिलाओं से ये सवाल नहीं पूछते. लेकिन अगर आपके वजाइनल डिस्चार्ज, कलर, स्मैल में अचानक से बदलाव होता है तो यह बैक्टीरियल इंफेक्शन का एक संकेत हो सकता है. हालांकि, इस समस्या से निपटना काफी आसान होता है लेकिन इसके लिए आपको डॉक्टर को इस बारे में खुलकर बताना होगा. 

क्या आप अपने बर्थ कंट्रोल मेथड से खुश हैं?

इंटीमेट हेल्थ के बारे में बात करते हुए अक्सर डॉक्टर्स महिलाओं से यह सवाल जरूर पूछते हैं लेकिन अगर आपकी डॉक्टर यह सवाल नहीं पूछ रही है तो जरूरी है कि आप किसी और बेहतर डॉक्टर के पास जाएं. गायनेकोलॉजिस्ट का यह काम होता है कि वह आपको बर्थ कंट्रोल के सेफ तरीके बताएं और आपकी मदद करें. ऐसे में आप बर्थ कंट्रोल के लिए कौन से तरीके अपनाती हैं. इसके बारे में अपनी डॉक्टर को जरूर बताएं ताकि वह सभी ऑप्शन चुनने में आपकी मदद कर सके. 

क्या आप अपने ब्रेस्ट को सेल्फ-चेक करती हैं?

हर महिला के लिए यह काफी जरूरी है कि वह अपने ब्रेस्ट की  सेल्फ-चेकिंग करें. हालांकि यह आपके डॉक्टर का काम है कि वह ऐसा करने के लिए आपको याद दिलाए. सही से चेकिंग के लिए डॉक्टर आपको और भी कई कारगर तरीके बता सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें