scorecardresearch
 

पैसों को लेकर ज्यादातर यंगस्टर्स करते हैं ये 5 गलतियां

थोड़ा पैसा हाथ में आया नहीं कि हो गई पार्टी शुरू! अधि‍कतर यंगस्टर्स पैसों को बस मस्ती करने का जरिया समझते हैं और बाद में फाइनेंश‍ियल प्लानिंग न करने पर पछताते हैं.

समय पर शुरू कर देनी चाहिए फाइनेंश‍ियल प्लानि‍ंग समय पर शुरू कर देनी चाहिए फाइनेंश‍ियल प्लानि‍ंग

पैसों को लेकर जितनी जल्दी प्लान‍िंग शुरू कर दी जाए, उतना बेहतर होता है. ऐसा न करने पर अक्सर बाद में पछताना ही पड़ता है.

जब हम यंग होते हैं तो लगता है कि मौज-मस्ती करने के लिए यही टाइम है. लिहाजा हमें अपनी जिंदगी जीनी चाहिए. ऐसा खासतौर पर 20-25 साल की उम्र के बीच होता है. लेकिन बाद में समझ में आता है कि समय रहते अगर पैसों की कीमत न समझी जाए तो हम बहुत कुछ अचीव करने से रह जाते हैं.

यहां जानते हैं ऐसी 5 बड़ी गलतियों के बारे में जो 20-25 साल की उम्र के दौरान युवा अक्सर करते हैं :

1. करियर के लिए सही प्लान न करना
ज्यादातर भारतीय युवा या तो डॉक्टर बनना चाहते हैं या फिर इंजीनियर. लोग अपनी रुचि‍ और कैपेसिटी को ढंग से समझ नहीं पाते हैं. नतीजा यह होता है कि कोचिंग में पैसे और अपनी मेहनत बर्बाद करने की रेस में शामिल हो जाते हैं.
इसलिए जरूरी है कि आप सही समय पर सही करियर का चुनाव करके उसी में पैसे और समय खर्च करें.

2. पैसे के लिए पैरेंट्स पर निर्भर रहना
कई लोग ऐसे होते हैं जो खुद कमाने के बावजूद अपने पैरेंट्स का सहारा पूरी तरह से छोड़ नहीं पाते. ऐसा अक्सर पहली और दूसरी जॉब में होता है कि यंगस्टर्स रहने, खाने और बाकी के शौक को पूरा करने में सारी सैलरी महीना खत्म होने से पहले ही खर्च कर देते हैं और फिर पैरेंट्स से मांगते है. ऐसी नौबत न आए इसके लिए जरूरी है मनी मैनेजमेंट सीखना.

3. लगातार बचत न करना
पहली और दूसरी जॉब के दौरान या फिर कॉलेज लाइफ में भी पैसे बचाने के प्रति हमेशा एक जिम्मेदारी होनी चाहिए. बहुत से लोग एक महीने बचाते हैं और दूसरे महीने नहीं. ऐसी लापरवाही के चलते उनका सेविंग अकाउंट खाली रहता है और जरूरत के समय उनके पास कुछ नहीं होता. इसकी एक वजह जरूरत की चीजों में खर्च करने की जगह फालतू खर्च करना भी है.

4. प्रैक्टिकल फाइनेंस और मनी मैनेजमेंट न समझना
फाइनेंस की प्रैक्टिकल नॉलेज का होना बेहद जरूरी है. आपको यह पता होना चाहिए कि छोटी-छोटी बचत करके ही आगे आप घर और कार जैसी चीजें खरीदने लायक हो पाते हैं. इसके लिए कुछ फाइनेंशियल ब्लॉग आदि पढ़ते रहना चाहिए जिससे निवेश के मुनाफे वाले तरीकों से वाकिफ रहें.

5. दूर की न सोचना
 आमतौर पर यंगस्टर्स आज में जीने में विश्वास रखते हैं और कल की चिंता नहीं करना चाहते. लेकिन यही गैर जिम्मेदाराना अंदाज उन्हें बाद में पछताने पर मजबूर कर देता है. कुछ समय बाद एहसास होता है कि पहले बचत की सोचने वाले दोस्त आज प्रॉपर्टी और कार के मालिक हो चुके हैं और वे वहीं के वहीं रह गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें