scorecardresearch
 

अब डिटर्जेंट से नहीं बल्क‍ि बल्ब और सूरज की रोशनी से साफ होंगे कपड़े

शोधकर्ताओं ने एक ऐसी तकनीक विकसित कर ली है जिससे कपड़ों को बल्ब की रोशनी या धूप में रखने पर वे 6 मिनट के अंदर खुद ही साफ हो जाएंगे.

अब सूरज की रोशनी में साफ होंगे कपड़े अब सूरज की रोशनी में साफ होंगे कपड़े

अब वो दिन ज्यादा दूर नहीं जब आपको अपने कपड़े साफ करने के लिए मेहनत करनी होगी. न तो डिटर्जेंट का इस्तेमाल करना होगा, न पानी का और न ही वॉशिंग मशीन का. हाथों से घिसने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता. कुछ न करके भी आपके कपड़े सफेद, चमकदार बने रहेंगे.

शोधकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने एक ऐसी तकनीक विकसित की है जिससे कपड़ों को बल्ब की रोशनी या धूप में रखने पर वे 6 मिनट के अंदर खुद ही साफ हो जाएंगे. मेलबर्न के आरएमआईटी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने विशेष नैनो-तकनीक से एक ऐसा कपड़ा बनाया है जो रोशनी में खुद साफ हो जाता है. शोधकर्ताओं के इस दल में एक भारतीय मूल के वैज्ञानिक भी शामिल हैं.

हालांकि शोधकर्ता राजेश रामनाथन के अनुसार अभी इस क्षेत्र में काफी काम किए जाने की जरूरत है. यह शोध एडवांस मैटेरियल इंटरफेसेस जर्नल में प्रकाशित हुआ है.

शोधकर्ताओं ने यह कपड़ा चांदी और तांबा आधारित नैनो-संरचनाओं से विकसित किया है जो अपनी प्रकाश को सोखने की क्षमता के लिए जाने जाते हैं. जब इन नैनो-संरचाओं पर रोशनी पड़ती है तो इनमें ऊर्जा के संचार से गर्म इलेक्ट्रॉन निकलते हैं. ये गर्म इलेक्ट्रॉन ऊर्जा का संचार करते हैं जिससे ये कपड़ा कार्बनिक पदार्थों (धूल-मिट्टी) को हटा देता है.

रामनाथन का कहना है कि यह कपड़ा कार्बनिक पदार्थों को तो साफ कर लेता है लेकिन इसे जैविक पदार्थो को भी साफ करने लायक बनाने की चुनौती अब भी बनी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें