scorecardresearch
 

अब 15 मिनट में हो सकेगी इबोला की जांच!

गिनी में मात्र 15 मिनट में इबोला की पुष्टि करने वाले जांच सिस्टम का परीक्षण किया जाएगा. इस जांच के लिए खून व लार के नमूनों को लिया जाएगा.

इबोला पीड़ित का इलाज इबोला पीड़ित का इलाज

गिनी में मात्र 15 मिनट में इबोला की पुष्टि करने वाले जांच सिस्टम का परीक्षण किया जाएगा. इस जांच के लिए खून व लार के नमूनों को लिया जाएगा. सेक्स से दूर रहें इबोला पीड़ित व्यक्ति

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, इस परियोजना का नेतृत्व सेनेगल के डकार स्थित पास्चर इंस्टीट्यूट द्वारा किया जा रहा है. इसमें सूटकेस के आकार के एक किट का इस्तेमाल किया जाएगा. यह हलका, सौर ऊर्जा से चलने वाला तथा कमरे के तापमान पर इस्तेमाल किया जा सकेगा. इस परियोजना के लिए वेलकम ट्रस्ट मेडिकल चैरिटी तथा ब्रिटेन के अंतरराष्ट्रीय विकास विभाग द्वारा रकम दी जा रही है.

वेलकम ट्रस्ट के एक अधिकारी ने कहा, '15 मिनट में यह जांच इबोला के मामले की पुष्टि कर सकता है. इससे जल्द से जल्द मरीज की पहचान कर उसे अलग किया जा सकता है और जल्द उसका इलाज शुरू किया जा सकता है.'

उन्होंने कहा, 'इससे मरीज को जिंदा रहने के लिए न केवल बेहतर मौका मिलेगा, बल्कि विषाणु के किसी अन्य व्यक्ति में फैलने से रोकने में भी मदद मिलेगी.'

---इनपुट IANS से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें