scorecardresearch
 

ऑफिस में सोशल डिस्टेंसिंग होगी आसान, बस याद रखें ये 4 खास बातें

लॉकडाउन के चौथे चरण में सरकार ने लोगों को बाहर निकलने या ऑफिस की छूट जरूर दी है, लेकिन इसमें भी आपको सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखना होगा. जो लोग ऑफिस जा रहे हैं यदि वे कुछ खास बातों ख्याल रखें तो कार्यस्थल पर भी सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन रखा जा सकता है.

X
ऑफिस खुलने के बाद कर्मचारियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग एक बड़ी चुनौती होगी. ऑफिस खुलने के बाद कर्मचारियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग एक बड़ी चुनौती होगी.

कई कंपनियों के लिए 'वर्क फ्रॉम होम' के जरिए काम लेना बड़ा मुश्किल है. इसलिए इन कंपनियों को मजबूरन अपने कर्मचारी कार्यस्थल पर बुलाने ही होंगे. लेकिन इस दौरान कर्मचारियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग की भी बड़ी चुनौती होगी. डब्ल्यूएचओ के एक दावे में कहा गया है की कोरोना वायरस की वैक्सीन बनने में अभी कितना समय लगेगा, इस बारे में किसी को भी जानकारी नहीं है.

लॉकडाउन के चौथे चरण में सरकार ने लोगों को बाहर निकलने या ऑफिस की छूट जरूर दी है, लेकिन इसमें भी आपको सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखना होगा. जो लोग ऑफिस जा रहे हैं यदि वे कुछ खास बातों ख्याल रखें तो कार्यस्थल पर भी सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन रखा जा सकता है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग: यदि आपको कोई आपातकालीन मीटिंग करनी भी है तो आप सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखें. मीटिंग में न सिर्फ आपको अपने सहकर्मियों से दुरी बनाए रखनी है, बल्कि मीटिंग रूम की टेबल-चेयर को भी अच्छे से सैनिटाइज करके रखना है. वैसे बेहतर विकल्प यही होगा की सभी मीटिंग्स डिजिटल प्लेटफॉर्म यानी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हों.

कम से कम यात्रा करें: बहुत से लोग रोजाना अपने ऑफिस कार पूलिंग करके जाते है. लेकिन इस महामारी के कारण हमें कार पूलिंग को बंद कर देना चाहिए. स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक वाहन ज्यादा यात्रियों के बैठने पर भी पाबंदी लगा दी है. यह भी अनिवार्य है कि आप मास्क पहनें और साबुन या सैनिटाइजर का उपयोग करके अपने हाथों को लगातार धोएं.

मेल-मिलाप या मीटिंग से बचे: चूंकि कोविड-19 तेजी से फैलने वाला वायरस है, इसलिए आप ऑफिस में भी अपने सहकर्मियों से निश्चित दूरी बनाएं रखें. कोशिश करें की आप एक ही जगह ज्यादा लोग जमा न हों. यदि आप मीटिंग कर भी रहे है तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अच्छे से करें किसी से भी हाथ न मिलाएं. सहकर्मी एक दूसरे के करीब न बैठें. कम से कम दो मीटर की दूरी बनाएं रखें. सीट पर बैठने से पहले और काम खत्म होने के बाद अपने हाथ अच्छे से सैनिटाइज करें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें