scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल

मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...

मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 1/9
मानूसन का मौसम दस्‍तक दे चुका है और बारिश की फुहारों अपने साथ लेकर आती है इस मौसम में मनाए जाने वाले त्‍योहार. ज‍हां के तरफ पूरे देश को गर्मी के मौसम से राहत मिलती है तो वहीं दूसरी तरफ त्‍योहारों की झड़ी भी लग जाती है. इस मौसम में हर राज्‍य में अलग तरह के त्‍योहार मनाएं जाते हैं.
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 2/9
1. तीज के रंग
तीज का त्‍योहार सावन के महीने का सबसे लोकप्रिय उत्‍सव है. महिलाओं के बीच इस त्‍योहार का खासा उत्‍साह देखा जा सकता है. मूलत: यूपी-बिहार का यह त्‍योहार राजस्‍थान, पंजाब और हरियाणा में भी बहुत चाव से मनाया जाता है. इस दिन महिलाएं खूब सजती-संवरती है और शिवजी की पूजा करती हैं.
कहां- यूपी-बिहार, पंजाब, हरियाणा, राजस्‍थान
कब- 5 अगस्‍त, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 3/9
2. नाग पंचमी
नाग पंचमी का त्‍योहार पूरे देश में अलग-अलग तरह से मनाया जाता है. इस दिन शिव मंदिरों में सारा दिन भीड़ देखी जा सकती है. इस दिन शिव पूजन के साथ ही सांपों की पूजा भी की जाती है. इस दिन को भगवान कृष्‍ण की कालिया नाग पर विजय के रूप में भी मनाया जाता है.
कहां- पूरे देश में
कब- 7 अगस्‍त, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 4/9
3. नेहरू गांधी स्‍नेक बोट रेस
हर साल अगस्‍त महीने के दूसरे शनिवार को वाली इस प्रतियोगिता का नाम पंडित जवाहरलाल नहेरू के नाम पर पड़ा था. इसका आयोजन पुन्‍नामडा झील, ऐल्‍लीपे के किनारे किया जाता है, जहां पर लगभग दो लाख लोग जमा होते हैं. इस रेस को देखने के लिए भारी संख्‍या में विदेशी पर्यटक भी केरल पहुंचते हैं.
कहां- पुन्‍नामडा झील, ऐल्‍लीपे, केरल
कब- 13 अगस्‍त, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 5/9
4. झापन मेला
पश्चिम बंगाल के बंकुरा में भी सावन का त्‍योहार बड़े जोर-शोर से मनाया जाता है लेकिन कुछ अलग रूप में. यहां पर मनसा देवी को समर्पित झापन मेला मनाया जाता है जिसमें भगवान शिव की पूजा की जाती है.
कहां- विष्‍णुपुर, वेस्‍ट बंगाल
कब- 17 अगस्‍त, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 6/9
5. भाई-बहन के प्‍यार का बंधन रक्षाबंधन
सावन के त्‍योहारों में से एक और शायद सबसे प्रिय त्‍योहार है रक्षाबंधन. भाई-बहन के अटूट प्रेम को और मजबूत करते इस त्‍योहार को उत्‍तर भारत के साथ ही देश के कई अन्‍य हिस्‍सों में भी मनाने की परंपरा है.
कहां- उत्‍तर भारत और कई अन्‍य प्रदेश
कब- 18 अगस्‍त, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 7/9
6. अथाचमयम
केरल के टेम्‍पल टॉउन के नाम से मशहूर एरनाकुलम जिले में तिरुपुनिथुरा में अथाचमयम का त्‍योहार बहुत ही शानदार तरीके से मनाया जाता है. ओणम से पहले इस त्‍योहार को ओणम की तैयारी के रूप में मनाया जाता है.
कहां- तिरुपुनिथुरा, एरनाकुलम
कब- 4 सितंबर, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 8/9
7. ओणम
केरल का सबसे बड़ा त्‍योहार है ओणम जिसे यहां पर उत्‍तर भारत के त्‍योहा दीपावली की तरह मनाया जाता है. इस दिन घरों को फूलों से सजाया जाता है और तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं. दस दिन तक चलने वाले इस त्‍योहार का मुख्‍य आकर्षण घर की सजावट और खानपान होता है.
कहां- केरल
कब- 13 सितंबर, 2016
मानसून में लगती है इन त्योहारों की झड़ी...
  • 9/9
8. अरनामूला बोट रेस
केरल में बोट महोत्‍सव के रूप में मशहूर इस रेस को अब केरल का पारंपरिक हिस्‍सा बना लिया गया है. हर साल इस बोट रेस को देखने के लिए लाखों की संख्‍या में पर्यटक केरल पहुंचते हैं.
कहां- पम्‍पा नदी के पास अरनामूला, केरल
कब- 17 सितंबर, 2016