scorecardresearch
 

सुप्रीम कोर्ट के बाद अब इलाहाबाद हाईकोर्ट में आज से वर्चुअल होगी सुनवाई

कोरोना संक्रमण के हालातों को देखते हुए जजों की प्रशासनिक कमेटी ने इस संबंध में फैसला लिया है. इसके तहत अब तीन जनवरी यानी सोमवार (आज) से इलाहाबाद हाईकोर्ट और इसकी लखनऊ बेंच में केसों की ऑनलाइन (वर्चुअल) सुनवाई की जाएगी.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोविड के कारण लिया गया फैसला
  • सभी केस वर्चुअल मोड में सुने जाएंगे

कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court), दिल्ली और गुजरात हाईकोर्ट (Gujarat High Court) के बाद अब इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) भी आज यानी तीन जनवरी से वर्चुअल मोड में सुनवाई करेगा.

कोरोना संक्रमण के हालातों को देखते हुए जजों की प्रशासनिक कमेटी ने इस संबंध में फैसला लिया है. इसके तहत अब तीन जनवरी यानी सोमवार (आज) से इलाहाबाद हाईकोर्ट और इसकी लखनऊ बेंच में केसों की ऑनलाइन (वर्चुअल) सुनवाई की जाएगी. फिलहाल फिजिकल सुनवाई पर रोक लगा दी गई है.

'ऐसी स्थिति में न सुनाया जाए फैसला'

इलाहाबाद हाईकोर्ट के महाधिवक्ता कार्यालय में सभी सरकारी वकीलों से सुबह 9:30 बजे मुख्य स्थाई अधिवक्ता कार्यालय में आने का अनुरोध किया गया है, ताकि ऑनलाइन बहस हो सके. वहीं बार एसोसिएशन (bar Association) ने इंटरनेट समस्या या किसी कारण से वकील अपने केस की बहस में कनेक्ट नहीं हो पाता, तो उन केसों में आदेश पारित न किए जाने का अनुरोध किया है. साथ ही अनुरोध किया गया है कि वकीलों को उनके चैंबरों तक जाने की छूट दी जाए. वहीं जिन मुकदमों की सुनवाई न हो सके, उन केसों को अगले दिन रखा जाए.

फैसले से बार एसोसिएशन को अवगत कराया

चीफ जस्टिस राजेश बिन्दल की अध्यक्षता में हुई प्रशासनिक कमेटी की बैठक में लिए गए फैसले से बार एसोसिएशन को अवगत करा दिया गया है. जजों की कमेटी ने वकीलों को उनके चैम्बरों तक जाने के लिए  बार एसोसिएशन के अनुरोध पर विचार करने का आश्वासन दिया है.

पहले भी हो चुकी है वर्चुअल मोड में सुनवाई


बता दें कि इससे पहले भी कोरोनी की पहली और दूसरी लहर के दौरान इलाहाबाद हाईकोर्ट औऱ लखनऊ बेंच में मुकदमों की सुनवाई वर्चुअल मोड में की गई थी.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×