scorecardresearch
 

वाराणसी में भस्म होली

वाराणसी में भस्म होली

वाराणसी की होली इसलिए खास है क्योंकि यहां के मणिकर्णिका घाट पर भस्म आरती मनाने की सदियों पुरानी परंपरा है. होली के हुड़दंगी रंग अबीर के साथ साथ चिता के भस्म के साथ अनोखी होली मनाते हैं. बजते डमरू, घंट, घड़ियाल और मृदंग से काशी का माहौल ही बदला हुआ है. वाराणसी की होली का बखान सिर्फ हिंदुस्तान ही नहीं परदेस में भी है. तभी तो दुनिया के कई देशों से होली के दीवाने काशी पहुंचे हुए हैं. वाराणसी की भस्म होली के पीछे परंपरा की कहानी भी बड़ी रोचक है, जिसका संबंध सीधे भोलेनाथ यानी भगवान शंकर से है. आइए आपको सुनाते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें