scorecardresearch
 

निर्भया के दोषियों की दया याचिका SC में खारिज, 22 जनवरी को फांसी का रास्ता साफ

निर्भया के दोषियों की दया याचिका SC में खारिज, 22 जनवरी को फांसी का रास्ता साफ

निर्भया गैंगरेप केस(Nirbhaya Gangrape case) में दो दोषियों के क्यूरेटिव पिटीशन(Curative petition) सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है. जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस रोहिंटन फली नरीमन, जस्टिस आर. भानुमति और जस्टिस अशोक भूषण की पांच जजों वाली पीठ विनय शर्मा और मुकेश की ओर से दायर की गई याचिकाओं पर सुनवाई की. पहले विनय शर्मा ने क्यूरेटिव पिटीशन दायर की थी. इसके बाद दोषी मुकेश ने भी पिटीशन दायर की थी.

The Supreme Court on Tuesday rejected curative petitions filed by two of the four convicts in the 2012 Nirbhaya gang-rape and murder case. The curative petitions were filed by Vinay Sharma (26) and Mukesh Kumar (32). The curative petitions were dismissed by five-judge bench in-chambers. The bench was made up of Justices N V Ramana, Arun Mishra, R F Nariman, R Banumathi and Ashok Bhushan.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें