scorecardresearch
 

3 देशों में मुस्लिम माइनॉरिटी नहीं है इसलिए वे बिल में नहीं: CAB पर अमित शाह

3 देशों में मुस्लिम माइनॉरिटी नहीं है इसलिए वे बिल में नहीं: CAB पर अमित शाह

राज्य सभा में नागरिकता बिल पर बहस जारी है. नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद के सवालों का जवाब देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लियाकत-नेहरू समझौते की याद दिलाई. उन्होंने कहा कि ये बिल हम तीन देशों के उन लोगों के लिए लाए हैं जिन्हें धार्मिक प्रताड़ना झेलनी पड़ी. इस बिल में मुस्लिम नहीं हैं इसे लेकर खूब सवाल उठ रहे हैं लेकिन इस बात की कोई सराहना नहीं है कि हम 6 धर्म के लोगों को ला रहे हैं. मुसलमानों को बिल में इसलिए नहीं रखा है क्योंकि वे अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश में अल्पसंख्यक नहीं हैं. देखें अमित शाह का जवाब.

Home Minister Amit Shah on Wednesday tabled the Citizenship (Amendment) Bill in Rajya Sabha. As the debate on the bill continues, Amit Shah replied to the questions raised by the leader of opposition Ghulam Nabi Azad. Amit Shah said Muslims are not included for giving citizenship because proposed law is for persecuted minorities in Pakistan, Bangladesh, Afghanistan. Watch the video for more details.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें