scorecardresearch
 

MP सरकार ने फिक्स किया नसबंदी का 'टार्गेट', बुरी तरह घिरे कमलनाथ

MP सरकार ने फिक्स किया नसबंदी का 'टार्गेट', बुरी तरह घिरे कमलनाथ

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार का 11 फरवरी के सर्कुलर ने संजय गांधी के नसबंदी अभियान की खौफनाक यादों को ताजा कर दिया था. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत मध्य प्रदेश सरकार की तरफ सभी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को नसबंदी का लक्ष्य पूरा करने का आदेश दिया गया था. आदेश के मुताबिक, हर स्वास्थ्यकर्मी को पांच से दस पुरुषों की नसबंदी का लक्ष्य दिया गया था. एक भी व्यक्ति का नसबंदी नहीं करा पाने पर स्वास्थ्यकर्मी को दंडित करने का प्रावधान भी तय किया गया था. सजा के तहत वेतन काटने से लेकर जबरन रिटायर करने की बात कही गई थी. क्या है पूरा मामला जानने के लिए देखिये ये वीडियो.

In a reminder of the Emergency days, the Kamal Nath-government in Madhya Pradesh has issued orders to its male health staff to bring at least one man for sterilisation by the end of March or face compulsory retirement. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें