scorecardresearch
 

'घर के हर सदस्य को बॉर्डर पर भेज दूंगा', देखें क्या कह रहे शहीद के घरवाले

'घर के हर सदस्य को बॉर्डर पर भेज दूंगा', देखें क्या कह रहे शहीद के घरवाले

पूर्वी लद्दाख के LAC पर चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय सपूतों ने अपनी शहादत दे दी. इन्हीं 20 में से एक थे झारखंड के कुंदन ओझा जिनकी बहादुरी पर आज पूरे देश को नाज है. कुंदन ने देश से किया वादा तो निभाया लेकिन घरवालों के वादे को ना निभा सके. 17 दिनों की बेटी से मिलने नहीं आ सके. आज पूरा परिवार सदमे में है. वीर सपूत कुंदन ओझा 17 दिन की बेटी का चेहरा भी नहीं देख पाए. झारखंड के साहिबगंज के रहनेवाले कुंदन ओझा भी उन्हीं शहीदों में से हैं जो गलवान वैली में चीनी फौजियों को मारते-मारते शहीद हो गये. देखिए ये वीडियो.

Awave of grief swept across the country as the mortal remains of the soldiers who laid down their lives fighting the Chinese Army in Galwan Valley in Ladakh were taken to their native places on Wednesday. Twenty Indian Army personnel, including Sepoy Kundan Kumar Ojha of Jharkhand, were killed in a fierce clash with Chinese troops in the Galwan Valley in eastern Ladakh on Monday night. watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें