scorecardresearch
 

एक और एक ग्यारह: देश में 'मूर्तितोड़' सियासत

आज एक और एक ग्यारह में हम आपको दिखाएंगे कि मूर्ति तोड़ने की चोट कैसे गांधी तक जा पहुंची है और क्या बीजेपी और टीडीपी में तलाक पक्का है. आज महिला दिवस है तो हम आपको मिलवाएंगे उन जांबाज और दिलेर महिलाओं से,जिन पर किसी को गर्व हो सकता है और ये भी दिखाएंगे कि दाऊद का सबसे बड़ा गुर्गा तो दुबई से खींच लाया गया लेकिन खुद दाऊद कब आएगा.त्रिपुरा में मार्क्सवाद के नायक ब्लादिमीर लेनिन की मूर्ति टूटने की कड़ी अब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तक पहुंच गई है. मूर्ति के बदले मूर्ति की धधकती आग में जलने से गांधी भी नहीं बचे. केरल के कन्नूर जिले में महात्मा गांधी की मूर्ति को कुछ अज्ञात लोगों ने तोड़ दिया है. इस शर्मनाक घटना को अंजाम देकर सभी आरोपी फरार हो गए और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. इस बीच तमिलनाडु के पेरियारनगर में अंबेडकर की मूर्ति पर पेंट पोती गई.आपको याद होगा कि सबसे पहले त्रिपुरा में लेनिन की दो मूर्तियां टूटी. उस तोडफोड से कुछ लोग इतने उत्साहित हुए कि तमिलनाडु के वेल्लोर में समाजसुधारक पेरियार की मूर्ति तोड़ डाली. अब इसकी प्रतिक्रिया में कोलकाता में बीजेपी के आइकन श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति को कुछ लोगों ने नुकसान पहुंचाया. उस पर हंगामा मचा ही कि मेरठ में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति तोड़ दी गई। प्रधानमंत्री इस पर नाराज होते रहे और इस बीच आज गांधीजी की मूर्ति भी तोड़ने वाले तोड़कर निकल लिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें