scorecardresearch
 

पुलिस-वकील विवाद पर संबित पात्रा और उज्जवल निकम ने पेश किए तर्क

पुलिस-वकील विवाद पर संबित पात्रा और उज्जवल निकम ने पेश किए तर्क

5 नवंबर को वकीलों के खिलाफ पुलिसवाले धरने पर थे, तो 6 नवंबर को उसी अंदाज में वकीलों ने पुलिस के खिलाफ दिल्ली की सभी निचली अदालतों को ठप रखा. इस बीच दिल्ली हाई कोर्ट में भी 2 नवंबर को हुई तीस हजारी कोर्ट परिसर की हिंसा पर सुनवाई हुई. यहां पर बार काउंसिल ऑफ इंडिया की ओर से कहा गया कि 2 नवंबर की हिंसा में पुलिस के रोल को पुलिस दबाने की कोशिश कर रही है. इसी मुद्दे पर आज तक के शो दंगल पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा और वरिष्ट वकील उज्जवल निकम ने अपने-अपने तर्क पेश किए. जहां संबित पात्रा ने कहा कि पर्दे के पीछे सरकार अपना काम कर रही है, वहीं उज्जवल निकम ने दंगा फैलाने वालों पर सख्त फैसले की बात कही. देखें वीडियो.

Delhi High Court on Wednesday dismissed an application filed by the Ministry of Home Affairs (MHA) seeking clarification and review of its November 3 order on a clash between police and lawyers in Tis Hazari Court. The scuffle between Delhi Police and lawyers continued on November 6 with no action taken in this connection. On Aaj Tak show, BJP spokesperson Sambit Patra said government is dicussing the solution of the problem behind closed doors, however, senior advocate Ujjwal Nikam demanded stringent action against the rioters. Watrch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें