scorecardresearch
 

एंटी रेप लॉः गृह और कानून मंत्रालयों के बीच मतभेद

एक तरफ तो रेप की वारदात बढ़ रही हैं. दूसरी तरफ रेप के खिलाफ कानून बनाने को लेकर सरकार अब भी असमंजस में है. गुरुवार को कैबिनेट की बैठक हुई, लेकिन एंटी रेप बिल पेश नहीं हो पाया. जाहिर है, इसपर मुहर नहीं लग पाई. क्योंकि मंत्रालयों में सहमति नहीं थी. सूत्रों के मुताबिक, गृह मंत्रालय और कानून मंत्रालय के बीच बिल के ड्राफ्ट को लेकर और आरोपियों की उम्र को लेकर अब भी सहमति नहीं बन पाई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें