scorecardresearch
 

नैनीताल में सलमान खुर्शीद के घर आगजनी-पथराव, अयोध्या पर किताब लिखने के बाद से हो रहा विरोध

फेसबुक पर घटना की तस्वीरें शेयर करते हुए सलमान खुर्शीद ने कहा, क्या मैं अभी भी गलत हूं? क्या ये हिंदुत्व हो सकता है? वहीं, इस घटना पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर की भी प्रतिक्रिया आई है.

नैनीताल में सलमान खुर्शीद के घर आगजनी-पथराव नैनीताल में सलमान खुर्शीद के घर आगजनी-पथराव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नैनीताल स्थित घर पर आगजनी और पत्थरबाजी
  • सलमान खुर्शीद अपनी किताब को लेकर विवादों में हैं

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद (Salman Khurshid) के नैनीताल स्थित घर पर आगजनी और पत्थरबाजी हुई है. इस घटना की जानकारी कांग्रेस नेता ने फेसबुक पर साझा की है. कहा जा रहा है कि उपद्रवियों के हाथ में बीजेपी का झंडा था और वे साम्प्रदायिक नारे लगा रहे थे. वहीं, इस मामले में पुलिस ने राकेश कपिल नाम के शख्स और अन्य अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

बता दें कि पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद अपनी किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या’ को लेकर विवादों में हैं. सलमान खर्शीद ने अपनी किताब में हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठन ISIS और बोको हराम से की है और हिंदुत्व की राजनीति को खतरनाक बताया है. 

फेसबुक पर घटना की तस्वीरें शेयर करते हुए सलमान खुर्शीद ने कहा, क्या मैं अभी भी गलत हूं? क्या ये हिंदुत्व हो सकता है? वहीं, घटना के बाद मीडिया से बातचीत में खुर्शीद ने कहा कि मुझे हिंदू धर्म पर गर्व है. आगजनी की घटना ने साबित कर दिया किया कि मैं सही था. ऐसे लोगों का हिंदू धर्म से कोई लेना-देना नहीं है. ये हमला मुझ पर नहीं, हिंदू धर्म पर है. मेरी पार्टी ने मेरी बातों का समर्थन किया है. पार्टी आलाकमान ने मेरी बातों को सही कहा है. मेरे दरवाजे खुले हैं, जो भी आए बात कर सकता है.  

इस घटना पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर की भी प्रतिक्रिया आई है. उन्होंने ट्वीट करके कहा है कि एक राजनेता, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत को गौरवान्वित किया है और हमेशा घरेलू स्तर पर देश के एक उदारवादी, मध्यमार्गी, समावेशी दृष्टिकोण को व्यक्त किया है. हमारी राजनीति में असहिष्णुता के बढ़ते स्तर की सत्ता में बैठे लोगों को निंदा करनी चाहिए.

VHP  ने दी थी जुबान काटने की धमकी 

इससे पहले शाहजहांपुर में शनिवार को विहिप (VHP) ने सलमान खुर्शीद का पुतला फूंका था. इतना ही नहीं विश्व हिंदू परिषद ने खुर्शीद की जुबान काटने की भी धमकी दी थी. इस दौरान VHP कार्यकर्ताओं ने कहा था कि ऐसे लोगों को पाकिस्तान भेज देना चाहिए.

किताब के कुछ हिस्सों पर आपत्ति जताई जा रही है

गौरतलब है कि सलमान खुर्शीद की इस किताब के कुछ हिस्सों पर आपत्ति जताई जा रही है. उन्होंने हिंदुत्व की तुलना आईएसआईएस (ISIS) और बोको हरम से की है. इस किताब के एक चैप्टर- 'सैफ़रन स्काई' यानी भगवा आसमान में सलमान खुर्शीद लिखते हैं कि- हिंदुत्व साधु-सन्तों के सनातन और प्राचीन हिंदू धर्म को किनारे लगा रहा है, जो कि हर तरीके से ISIS और बोको हरम जैसे जिहादी इस्लामी संगठनों जैसा है. 

वहीं, इस पर सलमान खुर्शीद ने अपनी सफाई में कहा था कि उन्होंने कभी हिंदुत्व की तुलना आतंकी संगठनों से नहीं की, बल्कि उनके कहने का मतलब ये था कि बीजेपी समर्थक धर्म का दुरुपयोग करते हैं और इसलिए उन्हीं की तरह हैं जो इस्लाम का दुरुपयोग करते हैं. उन्होंने कहा कि मैं तो हिंदू धर्म की तारीफ़ कर रहा हूं. मुझे उनसे आपत्ति होनी चाहिए कि वो हिंदू धर्म का दुरुपयोग कर रहे हैं.

प्रकाशन और बिक्री पर रोक लगाने की मांग

सलमान खुर्शीद ने यह भी कहा था कि उन्होंने बाबरी विध्वंस के बाद ही किताब लिखने का मन बना लिया था और फैसला आने तक इसका इंतज़ार किया. जब राम मंदिर पर फैसला आया तो मैंने उसका समर्थन किया और किताब शुरू कर दी. किताब के बाहर आते ही इस पर विरोध और आलोचनाओं का दौर जारी है. 

वहीं, हिंदू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने पटियाला कोर्ट से किताब के प्रकाशन, प्रसार और बिक्री पर रोक लगाने की मांग की है. हिंदू सेना का आरोप है कि किताब हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें