scorecardresearch
 

उत्तराखंडः चारधाम में पर्यटकों की गाइड बनेगी मित्र पुलिस, दूर करेगी समस्या

आगामी चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं से पुलिसकर्मियों की नोकझोंक और विवाद कम करने के चलते हैं अब उत्तराखंड पुलिस द्वारा विशेष प्लान बनाया जा रहा है जिसके तहत रेंज स्तर पर ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाया जाएगा.

बद्रीधाम का एक दृष्य (फाइल-पीटीआई) बद्रीधाम का एक दृष्य (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलिस जवानों को 2 दिन की विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी
  • उत्तराखंड में रेंज स्तर पर तैयारी में प्रदेश की पुलिस
  • पर्यटकों को अन्य पर्यटक स्थलों की भी जानकारी देंगे

उत्तराखंड में पहली बार पुलिस जवान जल्द ही टूरिस्ट गाइड की तर्ज पर काम करते हुए दिखाई देंगे. मई से शुरू होने जा रही चारधाम यात्रा में पुलिस ना सिर्फ श्रद्धालुओं को सहूलियत देगी बल्कि उनको गाइड भी करेगी जिसके लिए रेंज स्तर पर पुलिस तैयारी कर रही है.

इस खास शुरुआत के लिए पुलिस जवानों को ट्रेनिंग देने के लिए जल्द ही 2 दिन का विशेष प्रोग्राम चलाया जाएगा, जिसमें जवानों को शिरकत करनी होगी. 

अक्सर चारधाम यात्रा के दौरान शिकायत मिलती रहती है कि पुलिसकर्मी यात्रियों से नोकझोंक करते पाए गए हैं या फिर अभद्र व्यवहार के चलते दिक्कत आईं हैं.
 
आगामी चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं से पुलिसकर्मियों की नोकझोंक और विवाद कम करने के चलते हैं अब उत्तराखंड पुलिस द्वारा विशेष प्लान बनाया जा रहा है जिसके तहत रेंज स्तर पर ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाया जाएगा, जिसमें पुलिस जवानों को पर्यटकों के साथ कैसा व्यवहार करना है, टूरिस्ट को कैसे गाइड करना है इसकी जानकारी दी जाएगी. साथ ही जवानों को एक मेपिंग टेबलेट दिया जाएगा जिससे वह पर्यटकों को अन्य पर्यटक स्थलों की जानकारी भी दे सकेंगे.

डीआईजी गढ़वाल नीरू गर्ग का कहना है कि महाकुंभ की समाप्ति के बाद चारधाम यात्रा पर फोकस किया जाएगा. कुंभ ड्यूटी से फ्री हुए जवानों को यात्रियों से अच्छा व्यवहार रखने की ट्रेनिंग दी जाएगी. उन्होंने कहा कि सभी जवानों को एक मैपिंग टैबलेट दिया जाएगा, जिसमें चारधाम के अलावा अन्य पर्यटक स्थलों की सभी जानकारी रहेगी. इस टैबलेट में हर वो जानकारी होगी जिसकी जरूरत पर्यटकों को यात्रा के दौरान होती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें