scorecardresearch
 

उत्तराखंड: घोड़े को लाठी से पीटने वाले BJP विधायक को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में सोमवार को विधानसभा के बाहर प्रदर्शन के दौरान पुलिस के घोड़े पर हमला कर उसे लहूलुहान करने वाले विधायक गणेश जोशी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह ही आरोपी विधायक की गिरफ्तारी हुई थी.

X

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में सोमवार को विधानसभा के बाहर प्रदर्शन के दौरान पुलिस के घोड़े पर हमला कर उसे लहूलुहान करने वाले विधायक गणेश जोशी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह ही आरोपी विधायक की गिरफ्तारी हुई थी.

बीजेपी विधायक गणेश जोशी की गिरफ्तारी पर आपत्ति दर्ज करने के लिए बीजेपी का डेलिगेशन उत्तराखंड के डीजीपी बीएस सिद्धू के पास पहुंचा. उनकी शिकायत थी कि विधायक को गिरफ्तार करने का ये तरीका सही नहीं था.

उत्तराखंड के डीजीपी बीएस सिद्धू ने उन्हें जवाब देते हुए कहा कि आपराधिक मामले में विधायक की गिरफ्तारी के लिए विधानसभा की इजाजत लेना जरूरी नहीं होता.

दरअसल देहरादून विधानसभा का घेराव करने पहुंचे बीजेपी कार्यकर्ताओं को जब रोकने की कोशि‍श की गई तो, विधायक गणेश जोशी पुलिस के घोड़े पर ही बरस पड़े. उन्होंने घोड़े को लाठी से पीट कर लहूलुहान कर दिया. इस दौरान घोड़ा बुरी तरह घायल हो गया और वहीं जमीन पर गिर पड़ा.

सर्जरी कर काटा गया घोड़े का पैर
बीजेपी विधायक की ओर से किए गए हमले में घायल घोड़े शक्तिमान को पैर गंवाना पड़ा. उत्तराखंड पुलिस के डीजीपी बीएस सिद्धू ने बताया कि घोड़े के पैर की सर्जरी की कर उसे काट दिया गया.

अगर दोषी पाया गया तो पैर कटवा लूंगा
वहीं बीजेपी विधायक गणेश जोशी ने अपने बचाव में कहा था कि अगर उन पर लगे आरोप साबित हो गए, तो उनके पैर काट दिए जाएं. उन्होंने कहा, 'अगर मैं दोषी पाया गया तो हर सजा के लिए तैयार हूं.' बुधवार को बीजेपी एमएलए का बयान तब आया, जब उनके खिलाफ पुलिस ने प्रिवेंशन ऑफ एनिमल क्रुअल्टी एक्ट के तहत केस दर्ज किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें