scorecardresearch
 

Exclusive: कमलेश तिवारी की मां का आरोप- बेटे की हत्या के लिए पूरी योगी सरकार जिम्मेदार

आज तक से बात करते हुए कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी का दर्द भी छलका और आक्रोश भी. किसी बेगुनाह को सजा न हो जाए, यह चिंता भी दिखी. शनिवार को आज तक से बात करते हुए उन्होंने अपने बेटे की हत्या के लिए पूरी योगी सरकार को जिम्मेदार बताया.

आज तक से बात करतीं कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी आज तक से बात करतीं कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी

  • कमलेश की मां का झलका दर्द, कहा- प्रशासन ने की गद्दारी
  • मां ने कहा- योगी मिलें या नहीं, हमें इंसाफ चाहिए

पैगंबर साहब को लेकर विवादित बयान से सुर्खियों में आए हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की बदमाशों ने लखनऊ में हत्या कर दी थी. पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को गिरफ्तार कर हत्याकांड का पर्दाफाश करने का दावा भी कर दिया है, लेकिन कमलेश तिवारी की मां को इस जांच पर भरोसा नहीं.

आज तक से बात करते हुए कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी का दर्द भी छलका और आक्रोश भी. किसी बेगुनाह को सजा न हो जाए, यह चिंता भी दिखी. शनिवार को आज तक से बात करते हुए उन्होंने अपने बेटे की हत्या के लिए पूरी योगी सरकार को जिम्मेदार बताया और कहा कि योगी सरकार में कमलेश की सुरक्षा लगातार कम की गई. अखिलेश यादव की सरकार में कमलेश को 17 सुरक्षाकर्मी मिले थे. जो कम होते-होते आठ तक पहुंच गए थे.

उन्होंने कहा कि योगी की सरकार में यह संख्या चार तक पहुंच गई. दो साथ चलते थे और दो कार्यालय में रहते थे. कुसुम तिवारी ने कहा कि जिस दिन कमलेश की हत्या हुई, उस दिन एक भी सुरक्षाकर्मी उनके साथ नहीं था.

कमलेश की मां ने प्रशासन पर गद्दारी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन ने कमलेश को सुरक्षा दी होती तो यह घटना नहीं होती. कुसुम ने कमलेश की पत्नी और बच्चों को सुरक्षा दिए जाने की मांग की और पुलिस पर घटना के दिन रात 2 बजे तक बॉडी नहीं देने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि पुलिसवाले हमें गुमराह करते रहे. हम बॉडी को कार्यालय ले जाने को बोल रहे थे, वह सीतापुर ले जाने को कह रहे थे. दारोगा ने लाठीचार्ज भी किया, जिसमें कई लोगों को चोट भी आई.

शरीफ को पकड़ते हैं, बदमाशों को देते हैं सुरक्षा

कमलेश तिवारी की मां ने पुलिस के आरोपियों को गिरफ्तार कर लेने से संबंधित सवाल के जवाब में अविश्वास प्रकट करते हुए कहा कि किसी शरीफ को भी पकड़ लिए होंगे. सूली पर चढ़ा देंगे. उन्होंने कहा कि पुलिस बदमाशों को सुरक्षा देती है, शरीफों को पकड़ती है. उन्होंने किसी बेगुनाह सजा न देने और हत्यारों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग की. कुसुम ने मार्मिक सवाल किया कि क्या कोई मुझे मेरा बेटा, उसकी पत्नी को उसका पति, बच्चों को पिता लौटा सकता है.

योगी न मिलें, हमें इन्साफ चाहिए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने जाने के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमने मुख्यमंत्री के आने पर अंतिम संस्कार की शर्त रखी थी, लेकिन वह नहीं आए. अब हम योगी से मिलने क्यों जाएं. कमलेश की मां ने कहा कि वह मिलें या न मिलें, हमें इन्साफ मिलना चाहिए.

बदमाशों ने कार्यालय में ही कर दी थी कमलेश की हत्या

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की शुक्रवार को उनकी पार्टी के कार्यालय में ही बदमाशों ने गला रेत कर हत्या कर दी थी. हत्या से पहले बदमाशों ने उनके साथ दही बड़ा खाया और चाय पी. वह मिठाई का डब्बा भी लेकर गए थे. नौकर को गोल्ड फ्लेक लेने भेजने के बाद बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया था.

घटना स्थल से एक पिस्टल भी बरामद हुई थी. मिठाई के डब्बे के सहारे पुलिस ने सूरत से आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पत्नी ने मुख्यमंत्री योगी के आने तक अंत्येष्टि नहीं करने की बात कही थी. डिप्टी सीएम डॉक्टर दिनेश शर्मा घर पहुंचे तो विरोध में लगते नारे सुनकर दरवाजे से ही वापस लौट गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें