scorecardresearch
 

CM योगी ने शुरू की 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारी, कहा- नहीं होने देंगे यूपी का विभाजन

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनकी सरकार महिलाओं, पिछड़े तबकों और अल्पसंख्यकों के हितों का बराबर ख्याल रखेगी. उन्होंने आरोप लगाया कि अब तक तुष्टिकरण के नाम पर राज्य की जनता को बांटा जा रहा था और समाजवाद के नाम पर परिवारवाद और जातिवाद को बढ़ावा दिया जा रहा था.

धर्म और सियासत में तालमेल जरूरी: योगी आदित्यनाथ धर्म और सियासत में तालमेल जरूरी: योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ को यूपी की सत्ता संभाले अभी एक महीना भी नहीं हुआ है लेकिन उनकी नजर 2019 के चुनाव परिणामों पर है. एक हिंदी अखबार को दिये इंटरव्यू में मुख्यमंत्री ने का कहना था कि अगले आम चुनाव में पार्टी को जीत दिलाने के लिए उनकी सरकार को कड़ी मेहनत करनी होगी. योगी आदित्यनाथ ने धर्म और राजनीति में संतुलन बिठाने पर जोर दिया और दावा किया कि उनकी सरकार धर्म, जाति और संप्रदाय के आधार पर भेदभाव नहीं करेगी.

'धर्म का आधार है राष्ट्र'
सनातन धर्म को जीवन पद्धति बताते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धर्म का आधार राष्ट्र है. उन्होंने गांधी के रामराज्य और तुलसीदास की मान्यताओं का हवाला देते हुए धर्म और सियासत के बीच संतुलन पर जोर दिया. मुख्यमंत्री का कहना था कि देश के प्राचीव वैभव को वापस लाना होगा लेकिन इसके लिए नए विचारों के साथ तालमेल जरूरी है.

'तुष्टिकरण नहीं करेंगे'
मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनकी सरकार महिलाओं, पिछड़े तबकों और अल्पसंख्यकों के हितों का बराबर ख्याल रखेगी. उन्होंने आरोप लगाया कि अब तक तुष्टिकरण के नाम पर राज्य की जनता को बांटा जा रहा था और समाजवाद के नाम पर परिवारवाद और जातिवाद को बढ़ावा दिया जा रहा था.

'कर्ज माफी से खाली नहीं होगा खजाना '
मुख्यमंत्री ने इस आशंका को खारिज किया कि 86 लाख किसानों को कर्ज माफी का बोझ सरकारी खजाने पर पड़ेगा. उनके मुताबिक खर्चों का आकलन करने के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी बनाई गई है और उसकी रिपोर्ट का इंतजार है. आदित्यनाथ का दावा था कि उनकी सरकार किसानों का पूरा कर्ज माफ करना चाहती थी लेकिन पिछली सरकार के दौरान आर्थिक अराजकता के चलते ऐसा मुमकिन नहीं हो सका.

'यूपी का विभाजन नहीं करेंगे'
बीजेपी अब तक छोटे राज्यों की हिमायत करती आई है. लेकिन योगी आदित्यनाथ की मानें तो वो उत्तर प्रदेश का विभाजन कर राज्य को उसके गौरव से वंचित नहीं करेंगे.

'हमारे साथ तेज चलना होगा'
योगी आदित्यनाथ ने भरोसा दिलाया कि वो हड़बड़ी में प्रशासनिक फेरबदल नहीं करेंगे. लेकिन उन्होंने साफ किया कि उनके साथ अधिकारियों को तेज गति से काम करना होगा और पिछली सरकार में गलत काम करने वाले अफसर उनके साथ नहीं चल सकेंगे.

'पारदर्शी होंगी भर्तियां'
मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार में भर्तियां पारदर्शी तरीके से होंगी और जातिवाद या पैसे की बिनाह पर नियुक्ति करने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें