scorecardresearch
 

शाहबेरी में फ्लैट खरीदारों को झटका, अवैध इमारत तोड़ने के लिए प्राधिकरण का नोटिस

नोटिस दर्जनों निवेशकों को मिला, जिसके बाद शाहबेरी के निवेशकों में हलचल मच गई. बायर्स का कहना है कि बिल्डर्स, भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई करने के बजाय सरकार ने सारा बोझ हम पर डाल दिया.

शाहबेरी में गिरी इमारत (फाइल फोटो) शाहबेरी में गिरी इमारत (फाइल फोटो)

  • अवैध इमारत तोड़ने के लिए प्राधिकरण ने भेजा नोटिस
  • 7 दिन के अंदर निवेशकों को तोड़ना होगा घर

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित शाहबेरी में अवैध निर्माण को तोड़ने को लेकर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने बायर्स को नोटिस भेजना शुरू कर दिया है. नोटिस में बायर्स को साफतौर पर चेतावनी दी गई है कि 7 दिन के अंदर निवेशक अपने घर को तोड़ें नहीं तो फिर प्राधिकरण कार्रवाई करेगा.

बुधवार को ये नोटिस दर्जनों निवेशकों को मिला, जिसके बाद शाहबेरी के निवेशकों में हलचल मच गई. बायर्स का कहना है कि बिल्डर्स, भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई करने के बजाय सरकार ने सारा बोझ हम पर डाल दिया.

letter_092619011226.png

बता दें कि बीते साल अचानक दो बिल्डिंग ढहने से नौ लोगों की मौत हो गई थी, जिसके बाद शाहबेरी में अवैध निर्माण का मुद्दा गरमाया था. जांच हुई तो शाहबेरी में सारी बिल्डिंग को अवैध ठहरा दिया गया.  

बायर्स का कहना है कि हमने लाखों रुपये लगाकर एक मकान खरीद था, लेकिन उसमें भी ये अड़चन आ गई. अब हम कहां जाएं. सरकार बिल्डरों के ऊपर कार्रवाई करने की बजाय हमें ही सताती चली आई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें