scorecardresearch
 

तसलीमा नसरीन ने उठाए सवाल, ISIS के खिलाफ भारत में रैली क्यों नहीं?

मशहूर लेखिका तसलीमा नसरीन ने भारत में इजरायल के समर्थन में हो रहे प्रदर्शन और आतंकी संगठन पर आईएसआईएस की करतूतों पर चुप्पी को लेकर सवाल उठाए हैं.

X

मशहूर लेखिका तसलीमा नसरीन ने भारत में इजरायल के समर्थन में हो रहे प्रदर्शन और आतंकी संगठन पर आईएसआईएस की करतूतों पर चुप्पी को लेकर सवाल उठाए हैं.

उनका कहना है, 'इजरायल के समर्थन में भारत में रैली क्यों? क्या परमाणु शक्ति से लैस दुनिया के चौथे सबसे बड़े सैन्य शक्ति के खिलाफ कोई युद्ध हो रहा है? इजरायल हत्याएं करता है. आईएसआईएस के खिलाफ कोई रैली क्यों नहीं?'

तसलीमा नसरीन ने इजरायल और आईएसआईएस द्वारा की जा रही हिंसा पर संघ को भी घेरा. उन्होंने आरएसएस के विरोध प्रदर्शन की तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करके लिखा, 'अगर आप आईएसआईएस का विरोध इसलिए करते हैं क्योंकि वह हत्याएं कर रहा है तो आप इजरायल का समर्थन नहीं कर सकते. क्योंकि इजरायल भी ऐसा ही कर रहा है. तब आप सिर्फ मुस्लिम विरोधी हो.' गौरतलब है कि आतंकी संगठन हमास और इजरायल के बीच एक महीने से हो रहे युद्ध में गाजा पट्टी इलाके में 2000 से ज्यादा लोगों की जानें जा चुकी हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब तक 2,016 लोग मारे गए और अन्य 10,196 लोग घायल हो गए.

इस युद्ध को लेकर भारत में गाजा के समर्थन में जोरदार प्रदर्शन हुए. विपक्ष ने भी केंद्र सरकार को इस मुद्दे पर संसद में घेरा. विपक्ष इस मुद्दे पर संसद में चर्चा भी चाहता था हालांकि इसे माना नहीं गया. वहीं भारत के यूएन में इजरायल के खिलाफ वोट डाल चुका है. कुछ संगठनों ने तो इजरायल के समर्थन में भी रैलियां निकालीं.

वहीं, इराक में आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा निर्दोष लोगों की हत्या के कई मामले सामने आए हैं. इन हत्याओं को लेकर भारत में ज्यादा प्रदर्शन नहीं हुए. तसलीमा नसरीन ने इसी चुप्पी पर सवाल उठाए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें