scorecardresearch
 

मुंबई लोकल में महिलाओं की सुरक्षा के लिए रेलवे जारी करेगा मोबाइल ऐप

मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन में आए दिन महिलाओं के साथ छेड़छाड़, लूटपाट और मारपीट जैसी घटनाएं सामने आ रही हैं. महिलाओं की सुरक्षा को लेकर आरपीएफ पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं. ऐसे में महिला सुरक्षा को सुनिश्चि‍त करने के लिए बुधवार को वेस्टर्न रेलवे मंडल ने नए मोबाइल ऐप का ऐलान किया है.

X
Symbolic Image Symbolic Image

मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन में आए दिन महिलाओं के साथ छेड़छाड़, लूटपाट और मारपीट जैसी घटनाएं सामने आ रही हैं. महिलाओं की सुरक्षा को लेकर आरपीएफ पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं. ऐसे में महिला सुरक्षा को सुनिश्चि‍त करने के लिए बुधवार को वेस्टर्न रेलवे मंडल ने नए मोबाइल ऐप का ऐलान किया है.

जानकारी के मुताबिक, इस नए ऐप के जरिए महिलाएं लोकल ट्रेन में बैठते ही ट्रेन का समय, कोच संख्या और ट्रेन नंबर मोबाइल में स्टोर कर सकेंगी. इससे किसी भी अवांछित घटना होने की स्थि‍ति में वारदत की जानकारी फौरन रेलवे पुलिस फोर्स को भेजी जा सकेगी. इसके बाद आरपीएफ तत्काल कार्रवाई करते हुए ट्रेन की लोकेशन को ट्रैक कर घटनास्थल पर पहुंच जाएगी.

आरपीएफ के सिक्योरिटी इंचार्ज आनंद कुमार झा के मुताबिक, 'यह ऐप सुरक्षा व्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. ऐप के जरिए महिलाएं ट्रेनों में होने वाली घटनाओं के बारे में सीधे पुलिस को जानकारी दे पाएंगी और पुलिस की तत्काल कार्रवाई से अपराध पर अंकुश लग सकेगा.'

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही मुंबई पुलिस की ओर से भी महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. कार्यक्रम के दौरान मुंबई पुलिस कमिश्नर राकेश मरिया ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर महिला सुरक्षा ब्रिगेड बनाने की बात कही थी. इसमें ईगल ब्रिगेड और महिला बीट मार्शल प्रमुख हैं.

फिलहाल रेलवे द्वारा लाए जाने वाले इस ऐप पर काम जारी है. आरपीएफ के मुताबिक, यह ऐप एक महीने में जारी कर दी जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें