scorecardresearch
 

कोलकाता का 2-3 दिनों में खत्म होगा बारिश का इंतजार

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है जिसके चलते मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि इससे मानसून तटीय इलाकों को पार कर लेगा और कोलकाता समेत पश्चिम बंगाल और आस-पास के इलाकों में बारिश का इंतजार खत्म हो जाएगा.

File Image File Image

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है जिसके चलते मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि इससे मानसून तटीय इलाकों को पार कर लेगा और कोलकाता समेत पश्चिम बंगाल और आस-पास के इलाकों में बारिश का इंतजार खत्म हो जाएगा.

आईएमडी के जारी आंकड़ों के मुताबिक खाड़ी में इस कम दबाव के क्षेत्र के चलते मानसून की चाल को रफ्तार मिलेगी और अगले 3-4 तीन दिनों में दक्षिण-पश्चिम मानसून पश्चिम बंगाल के अधिकांश इलाकों पर अपनी पकड़ बना लेगा. वहीं निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट का भी मानना है कि अगले 48 घंटों में मानसून समु्द्री इलाकों में मजबूत होकर सतह पर आ सकता है जिसके चलते 4-5 दिनों में पश्चिम बंगाल, ओडिशा और बिहार के इलाकों में अच्छी बारिश होने के आसार है.

गौरतलब है कि केरल के तटों पर देर से पहुंचा दक्षिण-पश्चिम मानसून पिछले तीन दिनों से स्थिर है. हालांकि मानसून के पश्चिमी छोर ने थोड़ी बढ़त बनाते हुए महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा पर पकड़ बनाई है. वहीं पूर्वी छोर भी पिछले कुछ दिनों से स्थिर बना हुआ है.

हालांकि पिछले कुछ दिनों में पश्चिम बंगाल के कुछ और ओडिशा के कई इलाकों में छुटपुट बारिश देखने को मिली है और अब बंगाल की खाड़ी में पनप रहे दबाव से इन इलाकों में अगले कुछ दिनों में तेज बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग का दावा है कि अगले कुछ दिनों में मानसून एक साथ ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार के कुछ इलाकों में तेज से मध्यम बारिश होने के आसार हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें