scorecardresearch
 

Weather Update Live: उत्तर भारत में प्रचंड गर्मी का कहर जारी, इन राज्यों में हो सकती है बारिश

Weather Forecast Live Updates, Heat Wave: मौसम विभाग ने कहा, उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत के मैदानी इलाकों और सटे हुए पूर्वी भारत के कुछ भागों में शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण, वर्तमान लू (Heat Wave) की स्थिति अगले 24 घंटों के दौरान जारी रहने की आशंका है.

Weather Forecast Live Updates Heat Wave Delhi Recorded Maximum Temperature (IMD Alert, मौसम का हाल) Weather Forecast Live Updates Heat Wave Delhi Recorded Maximum Temperature (IMD Alert, मौसम का हाल)

  • आज भी जारी रहेगा लू का कहर
  • 24 घंटे में मिल सकती है राहत

Weather Forecast Live Updates: दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में झुलसा देने वाली गर्मी से लोग बेहाल हैं. बुधवार को देश के कई हिस्सों में तापमान 50 डिग्री के करीब पहुंच गया. इस बीच, मौसम विभाग (INDIA METEOROLOGICAL DEPARTMENT) का कहना है कि मौजूदा भीषण गर्मी (Heat Wave) से तत्काल राहत मिलने की कोई संभावना नहीं है. हालांकि, चिलचिलाती गर्मी के बीच कुछ राज्यों में अगले 24 घंटे में हल्की बारिश की संभावना जताई गई है.

भारत मौसम विभाग (IMD) ने बताया कि उत्तर और मध्य भारत के कई हिस्सों में चल रही गर्म हवाएं गुरुवार को भी जारी रह सकती हैं. हालांकि सप्ताह के अंत में कुछ राहत की उम्मीद की जा सकती है. मौसम विभाग ने कहा, 'उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत के मैदानी इलाकों और सटे हुए पूर्वी भारत के कुछ भागों में शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण, वर्तमान लू (Heat Wave) की स्थिति अगले 24 घंटों के दौरान जारी रहने की आशंका है.'

हालांकि गुरुवार शाम को चली तेज हवाओं के बाद दिल्ली-एनसीआर में तापमान में थोड़ी गिरावट दर्ज की गई. जिस वजह से लोगों को तपती गर्मी से काफी राहत मौसम हुई. गुरुवार शाम को चली हवाओं से दिल्ली-एनसीआर ने मौसम एक बार फिर सुहाना कर दिया है. तेज हवाओं के साथ ही साथ दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में हल्की बारिश भी हुई. बारिश के बाद रात में ठंडी हवाएं चलती रहीं जिससे तापमान में काफी कमी आई.

उत्तराखंड में शुरू हुई बारिश

उत्तराखंड के मसूरी शहर में मूसलाधार बारिश शुरू हुई. बारिश की वजह से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया. जानकारी के मुताबिक मसूरी में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. बारिश के बाद मौसम में ठंडी भी महसूस की गई. मसूरी के तापमान में काफी गिरावट आई है. मसूरी के पर्यटन स्थल धनौल्टी में ओलावृष्टि से काफी नुकसान हुआ है. बारिश के बाद हुई ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को नुकसान हुआ है.

मसूरी के अलावा बागेश्वर में भी मूसलाधार बारिश शुरू हुई. जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है. पौड़ी में भी तेज हवाओं के साथ बारिश हुई. हालांकि वहां तेज बारिश कुछ ही समय के लिए रही. इसके अलावा टिहरी जिले के कई हिस्सों में पिछले 2 घण्टे से लगातार मूसलाधार बारिश जारी है.

28 और 31 मई को हो सकती है बारिश

मौसम विज्ञान विभाग ने हरियाणा और पंजाब में 28 और 31 मई को कुछ स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़ने और 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने की संभावना जताई है. जबकि 29 ओर 30 मई को दोनों राज्यों में बिजली कड़कने और 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है.

दिल्ली में 47 पार तापमान

बुधवार को दिल्ली के अधिकांश क्षेत्रों में पारा सामान्य से 6 डिग्री अधिक रहा. दिल्ली का पालम इलाका 47.2 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ सबसे गर्म रहा. दिल्ली के सफदरजंग में अधिकतम तापमान 45.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं लोधी रोड में 45.1 डिग्री और आयानगर में 46.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

कब मिलेगी गर्मी से राहत?

गुरुवार की शाम से दिल्ली के मौसम पर बदलाव देखने को मिलेगा. मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार की शाम या रात से 30 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. वहीं, शुक्रवार और शनिवार को हल्की बारिश से तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है. भयंकर लू का सामना कर रहे उत्तर भारत के राज्यों को शुक्रवार से थोड़ी राहत मिल सकती है. पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते मौसम में बदलाव होने से यह मुमकिन होगा.

1_052820085923.jpgदिल्ली का हफ्ते भर का मौसम अनुमान

राजस्थान में तापमान 50 के करीब

राजस्थान में तापमान 50 डिग्री के करीब पहुंच गया. राजस्थान के ज्यादातर इलाके लू यानी गर्म हवाओं की चपेट में हैं. बुधवार को चुरू में अधिकतम तापमान 49.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. यहां मंगलवार को पारा 50.0 डिग्री सेल्सियस था. मौसम विभाग का कहना है कि राज्य में गर्मी का यह दौर अगले 24 घंटे जारी रहेगा हालांकि शुक्रवार को इसमें कुछ राहत मिल सकती है.

राज्य के बाकी हिस्सों में भी भीषण गर्मी पड़ रही है. बीकानेर में अधिकतम तापमान 48.0 डिग्री सेल्सियस, श्रीगंगानगर में 48.9 डिग्री, कोटा में 47.2 डिग्री, जैसलमेर में 46.1 डिग्री, बाड़मेर 45.9 डिग्री, जयपुर में 44.8 डिग्री, अजमेर में 44.0 डिग्री व जोधपुर में 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के अनुसार अगले चौबीस घंटों में भी राज्य के जोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर, भरतपुर व कोटा संभाग के कुछेक स्थानों पर तीव्र लू (हीट वेव) तथा काफी स्थानों पर लू चलने के आसार हैं. इन इलाकों में दिन का अधिकतम तापमान 45-47 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान है.

weather-28-may-1_052820082405.jpegबुधवार की तस्वीर - PTI

हरियाणा-पंजाब में लू का कहर

हरियाणा और पंजाब में भी लू का कहर जारी रहा. इन दोनों राज्यों में सबसे अधिक तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस नारनौल में दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि नारनौल में अधिकतम तापमान सामान्य से 6 डिग्री अधिक दर्ज किया गया. वहीं, हरियाणा के हिसार में अधिकतम तापमान सामान्य से 4 डिग्री अधिक 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जबकि अंबाला में 43.8 डिग्री सेल्सियस, करनाल में 42.8 डिग्री सेल्सियस रहा.

पंजाब के पटियाला में भी गर्मी का कहर जारी रहा. यहां अधिकतम तामपान 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अमृतसर और लुधियाना में तापमान क्रमश: 43.5 और 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में तापमान सामान्य से 4 डिग्री अधिक 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

Weather Forecast: गर्मी ने तोड़े रिकॉर्ड', AC भी फेल, रेड अलर्ट, जानें कब मिलेगी राहत

कोलकाता में फिर आया तूफान

पश्चिम बंगाल में अम्फान चक्रवात के ठीक एक सप्ताह बाद बुधवार शाम को कोलकाता में तूफान आया और इस दौरान 96 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलीं. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यहां यह जानकारी दी. बुधवार को तेज हवाओं और औसत बारिश के साथ आए इस तरह के तूफान को स्थानीय वार्तालाप में ''कालबैसाखी'' कहा जाता है.

मौसम विभाग ने कहा कि इस कारण शहर में कई जगह पेड़ उखड गए और यातायात बाधित हुआ. उन्होंने कहा कि तूफान के साथ ही औसत बारिश भी दर्ज की गई.

यहां के अलीपुर स्थित आईएमडी के प्रांतीय मुख्यालय ने शाम 6 बजकर 23 मिनट पर 96 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा की गति दर्ज की. बाद में तूफान शहर से गुजरता हुआ उत्तर-उत्तरपश्चिमी दिशा की ओर चला गया.

इससे पहले, विभाग ने 20 मई को आए अम्फान चक्रवात के दौरान शहर में वायु की अधिकतम गति 114 किलोमीटर प्रतिघंटा दर्ज की थी.

हाल ही में आए अम्फान चक्रवात की बुरी यादों से सहमे लोग अभी उबरने की कोशिश में हैं और ऐसे में बुधवार को चली तेज हवाओं के साथ बारिश होने पर उनके बीच अफरा-तफरी का माहौल बन गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें