scorecardresearch
 

यमुना किनारे भी किसी विदेशी मेहमान को ले जा सकेंगे PM मोदी: उमा भारती

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि सरकार अन्य नदियों के साथ-साथ यमुना की सफाई को लेकर भी गंभीर है. उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री साबरमती की ही तरह यमुना के किनारे भी किसी देश के प्रमुख को ले जा सकेंगे.

X
उमा भारती (फाइल फोटो) उमा भारती (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि सरकार अन्य नदियों के साथ-साथ यमुना की सफाई को लेकर भी गंभीर है. उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री साबरमती की ही तरह यमुना के किनारे भी किसी देश के प्रमुख को ले जा सकेंगे.

दरअसल, नरेंद्र मोदी ने हाल ही में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ साबरमती के तट पर खुशनुमा माहौल में बातचीत की थी. उमा उसी का उदाहरण पेश कर रही थीं.

उमा भारती ने कहा है कि आने वाले दिनों में नदियों को जोड़ने की योजना पर तेजी से काम होगा. उन्होंने कहा कि गंगा की सफाई पर सुप्रीम कोर्ट ने जो टिप्पणी की है, वह पिछले 29 सालों में इस मामले में प्रगति को लेकर है, न कि मौजूदा सरकार को लेकर.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोर्ट ने हमारी सरकार की योजना में सहयोग का संकेत दिया है. उन्होंने नदियों की सफाई से जुड़ी कुछ योजनाओं का खाका पेश किया.

उमा भारती ने कहा कि जब नदियां अविरल होंगी, तभी वे निर्मल भी होंगी. उन्होंने कहा कि सवा साल में हमें गोमुख से गंगासागर तक हर जगह के पानी की क्वालिटी का पता चल जाएगा. उन्होंने कहा कि गोमुख से गंगासागर तक गंगा किनारे हरियाली लगाई जाएगी, जिसमें जड़ी-बूटियां भी शामिल होंगी.

जनता को जागरूक करने के अभ‍ियान का जिक्र करते हुए उमा ने कहा कि हमारा नारा होगा, 'हमारा जिला, हमारा जल'. उन्होंने कहा कि सीवेज इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए 118 अन्य शहरों की पहचान की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें