scorecardresearch
 

100 मिनट में दिल्ली से आगरा पहुंची देश की पहली हाईस्पीड ट्रेन

आज से हिंदुस्तान की पहली बुलेट ट्रेन का ट्रायल रन शुरू हो गया. सवा 11 बजे ये ट्रेन आगरा के लिए रवाना हो गई. ये ट्रेन 100 मिनट में दिल्‍ली से आगरा पहुंची. हालांकि इसके पहले दावा ये किया जा रहा था कि ये  सिर्फ 90 मिनट में दिल्ली से आगरा की दूरी तय करेगी. ट्रेन की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा होगी.

हिंदुस्तान की पहली बुलेट ट्रेन हिंदुस्तान की पहली बुलेट ट्रेन

आज से हिंदुस्तान की पहली बुलेट ट्रेन का ट्रायल रन शुरू हो गया. सवा 11 बजे ये ट्रेन आगरा के लिए रवाना हो गई. ये ट्रेन 100 मिनट में दिल्‍ली से आगरा पहुंची. हालांकि इसके पहले दावा ये किया जा रहा था कि ये  सिर्फ 90 मिनट में दिल्ली से आगरा की दूरी तय करेगी. ट्रेन की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा होगी.

यह हाई स्पीड ट्रेन नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन के प्‍लेटफार्म नंबर 6 से सवा 11 बजे चली. यह सीधे आगरा जाकर रुकेगी. उत्तर रेलवे डीआरएम, अनुराग सचान ने बताया, 'हिंदुस्तान की इस हाई स्पीड ट्रेन में शताब्दी जैसे 10 कोच होंगे. जबकि इंजन 5400 एचपी से लैस होगा. इस ट्रेन को अक्टूबर में लॉन्च किया जाएगा. फिलहाल हिंदुस्तान की सबसे तेज ट्रेन भोपाल शताब्दी है. जिसकी औसत स्पीड 140 किलोमीटर प्रति घंटे है. दिल्ली-आगरा रूट पर फास्टेड ट्रेन चलाने के लिए ना सिर्फ ट्रैक को दुरुस्त किया गया है बल्कि ट्रैक के आस-पास 10 किलोमीटर फेंसिंग भी लगाई गई है.

हिंदुस्तान की पहली ट्रेन 16 अप्रैल 1853 को चली थी. ट्रेन को मुंबई से ठाणे की 34 किलोमीटर की दूरी तय करने में करीब एक घंटे का वक्त लगा था. 161 साल बाद ट्रेन की रफ्तार करीब 5 गुना बढ़ गई है. लेकिन अब भी हम दुनिया की फास्टेड बुलेट ट्रेन के मुकाबले कहीं नहीं ठहरते हैं. पिछले साल ही जापान ने दुनिया की फास्टेड ट्रेन का ट्रायल रन किया था. इसकी स्पीड 581 किलोमीटर प्रति घंटे थी. ताज का दीदार करने वालों के लिए ये दोहरी खुशखबरी है कि यमुना एक्सप्रेस वे से 2 घंटे में आगरा और बुलेट ट्रेन से डेढ़ घंटे में आगरा का सफर तय का सकेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें