scorecardresearch
 

भारी बारिश से परेशान लोग एक-दूसरे की मदद के लिए आगे आए

बारिश का आलम यह है कि मंगलवार को यहां बिना रुके मूसलाधार बारिश हुई. सड़कें पूरी तरह से पानी में डूब चुकी हैं. लोग सुरक्षित स्थानों की ओर भाग रहे हैं. घर-सड़क हर जगह अब सिर्फ पानी ही पानी है.

तमिलनाडु में भारी बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो चुका है. चेन्नई पूरी तरह से डूब चुका है. यहां तक कि अभी तक बारिश से यहां 188 लोगों की मौत हो चुकी है.

बारिश का आलम यह है कि मंगलवार को यहां बिना रूके मूसलाधार बारिश हुई. सड़कें पूरी तरह से पानी में डूब चुकी हैं. लोग सुरक्षित स्थानों की ओर भाग रहे हैं. घर-सड़क हर जगह अब सिर्फ पानी ही पानी है.

लेकिन ऐसे समय में चेन्नई का एक अलग सुखद चेहरा भी सामने आ रहा हैं. मुसीबत की घड़ी में लोग अपनी चिंता के अलावा ओरों की भी मदद के लिए आगे आ रहे हैं. लोगों ने जरुरतमंदों के लिए अपने घर के साथ अपने दिल के भी दरवाजे खोल दिए हैं.

जहां भी लोगों के घर में सुरक्षित जगह है. इंटरनेट की सुविधा है वे लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं.

बारिश ने 100 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. लोगों की दिनचर्या में पूरी तरह से ठहराव आ गया है. एयरपोर्ट बंद हो गया है. बचाव कार्य जारी है. ऐसे में कुछ लोग जिम्मेदारी समझते हुए आगे आए हैं.

जो भी लोग सोशल साइट्स पर हैं वो लोगों को उन स्थानों की जानकारी दे रहे हैं जहां आश्रय पाया जा सकता है. ऐसा दिन शायद ही चेन्नई ने पहले कभी देखा हो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें