scorecardresearch
 

दुनिया के सबसे प्रभावित देशों से भी ज्यादा हैं भारत के इन राज्यों में कोरोना केस

ब्राजील को पीछे छोड़ते हुए भारत अब दुनिया का दूसरा ऐसा देश बन गया है, जहां सबसे ज्यादा कोरोना केस हैं. इसका मतलब यह भी है कि भारत के कुछ राज्य अब दुनिया के सबसे प्रभावित देशों से मुकाबला कर रहे हैं.

देश में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस के मामले (फोटो: PTI) देश में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस के मामले (फोटो: PTI)

  • सबसे ज्यादा नए केस वाले 10 देशों में से 4 भारतीय राज्य
  • महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से करीब 14,000 मौतें हुई

पिछले कुछ हफ्तों से दुनिया भर में बढ़ रहे कोरोना केसों का एक हिस्सा भारत में दर्ज हो रहा है. ब्राजील को पीछे छोड़ते हुए भारत अब दुनिया का दूसरा ऐसा देश बन गया है, जहां सबसे ज्यादा कोरोना केस हैं. इसका मतलब यह भी है कि भारत के कुछ राज्य अब दुनिया के सबसे प्रभावित देशों से मुकाबला कर रहे हैं.

इस विश्लेषण के लिए भारतीय राज्यों के कोरोना संबंधी आंकड़े “covid19india.org” से और अंतरराष्ट्रीय आंकड़े जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (JHU CSSE) से लिए गए हैं. भारत की जनसंख्या का अनुमान स्वास्थ्य मंत्रालय के राष्ट्रीय जनसंख्या आयोग 2020 के आंकड़ों से लिया गया है, जबकि अन्य देशों की जनसंख्या का अनुमान 2019 में संयुक्त राष्ट्र से आंकड़ों के आधार पर है.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में भी SBI मालामाल, 81 फीसदी बढ़ गया मुनाफा

1_073120063734.jpg

आंकड़े गवाही देते हैं कि इस हफ्ते दुनिया में जितने नए केस आए, उसकी एक बड़ी संख्या- एक चौथाई संख्या के लिए भारत जिम्मेदार है. लेकिन कुछ भारतीय राज्य दैनिक नए केस के मामले में दुनिया के सबसे प्रभावित देशों से मुकाबला कर रहे हैं.

अगर भारतीय राज्यों को एक देश माना जाए तो इनमें से कई राज्य अब दुनिया के सबसे प्रभावित देशों के बराबर पहुंच रहे हैं. अगर इन राज्यों को देश मानकर देखें तो इनमें से सात राज्य ऐसे हैं जो सबसे ज्यादा नए केस वाले 20 देशों में शामिल हैं. सबसे ज्यादा नए केस वाले 10 देशों में से 4 भारतीय राज्य शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में 24 घंटे में 121 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव, 2 की गई जान

2_073120063751.jpg

भारतीय राज्यों को देश मानने की सूरत में, 27 जुलाई को महाराष्ट्र (7,924 नए केस), तमिलनाडु 6,993), आंध्र प्रदेश (6,051) और कर्नाटक (5,324) दुनिया के 10 सबसे खराब स्थिति वाले देशों में से एक रहे. यहां तक कि मैक्सिको से भी बदतर स्थिति में जो जनसंख्या के मामले में बड़ा है. 27 जुलाई को दुनिया के कुल नए केस का 3.5 फीसदी अकेले महाराष्ट्र में दर्ज हुए.

भारत के राज्य अगर देश होते तो कोरोना केसों की संख्या के मामले में नौ राज्य दुनिया के 50 सबसे प्रभावित देशों में शामिल होते. ऐसी स्थिति में महाराष्ट्र सातवें स्थान पर होता.

हालांकि, कोरोना की मृत्यु दर के मामले में कई देशों की हालत बहुत बुरी है. सिर्फ महाराष्ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल ऐसे राज्य हैं,​जहां की मृत्यु दर की तुलना 20 सबसे ज्यादा प्रभावित देशों से की जा सकती है. महाराष्ट्र में करीब 14,000 मौतें हुई हैं. मौतों की वास्तविक संख्या के मामले में सिर्फ महाराष्ट्र ऐसा राज्य है, जिसकी तुलना 20 सबसे प्रभावित देशों से की जा सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें