scorecardresearch
 

विवादास्पद फोटो ट्वीट कर फंसी तीस्ता सीतलवाड़, बाद में मांगी माफी

गुजरात दंगों में नरेंद्र मोदी की भूमिका को लेकर लगातार सवाल उठाने वाली सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ एक ट्वीट को लेकर विवादों में फंस गई. उनका ट्वीट धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला था. हालांकि विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने माफी मांग ली.

X
तीस्ता सीतलवाड़ (फाइल फोटो)
तीस्ता सीतलवाड़ (फाइल फोटो)

गुजरात दंगों में नरेंद्र मोदी की भूमिका को लेकर लगातार सवाल उठाने वाली सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ एक ट्वीट को लेकर विवादों में फंस गई. उनका ट्वीट धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला था. हालांकि विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने माफी मांग ली.

तीस्ता ने शुक्रवार को अपने ट्विटर प्रोफाइल पर एक विवादास्पद तस्वीर शेयर की थी जिसमें हिंदू धर्म की देवी मां काली की तुलना ISIS के आतंकवादी से की गई थी.

तीस्ता ने जो तस्वीर शेयर की थी उसमें एक आतंकवादी के हाथ में सुदर्शन चक्र दिखाया गया था जो हिंदू मान्यताओं के अनुसार भगवान विष्णु का शस्त्र माना जाता है. वहीं दूसरी तरफ मां काली के चेहरे पर ISIS के आतंकवादी का चेहरा लगाया गया था.

देखते ही देखते वो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई जिसके बाद तीस्ता को चौतरफा आलोचना झेलनी पड़ी और उनकी गिरफ्तारी की मांग भी की जाने लगी. हंगामा मचने के बाद तीस्ता ने उस तस्वीर को अपनी प्रोफाइल से हटा लिया और माफी भी मांगी.

दूसरी तरफ इसी मामले को लेकर गोवा में तीस्ता सीतलवाड़ के खिलाफ एक शिकायत भी दर्ज कराई गई है. रोहित गौनकर नाम के एक शख्स ने यह कहते हुए शिकायत दर्ज कराई कि तीस्ता ने ये तस्वीरें हिंदू भावनाओं को भड़काने के लिए शेयर की. आपके बता दे कि तीस्ता सीतलवाड़ समाजसेवी होने के साथ-साथ पत्रकार भी हैं. फिलहाल तीस्ता सिटिजन फॉर जस्टिस एंड पीस नाम की संस्था से जुड़ी हैं जो 2002 में हुए गुजरात दंगों में मारे गए लोगों के इंसाफ की लड़ाई लड़ता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें