scorecardresearch
 

देश के कई भागों में स्वाइन फ्लू का कहर, राजस्थान में 75 की मौत

उत्तर भारत के कई इलाकों में स्वाइन फ्लू कहर बरपा रहा है. स्वाइन फ्लू का सबसे ज्यादा कहर राजस्थान में देखने को मिल रहा है, जहां इस बीमारी से मरने वालों की तादाद 75 तक पहुंच गई है.

Symbolic Image Symbolic Image

उत्तर भारत के कई इलाकों में स्वाइन फ्लू कहर बरपा रहा है. स्वाइन फ्लू का सबसे ज्यादा कहर राजस्थान में देखने को मिल रहा है, जहां इस बीमारी से मरने वालों की तादाद 75 तक पहुंच गई है. राजस्थान, यूपी और गुजरात में स्वाइन फ्लू का कहर

स्वाइन फ्लू को लेकर केंद्र सरकार सतर्क है. राज्यों को स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. वहीं दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों का मॉडल भी समझाया जा रहा है, जिससे स्वाइन फ्लू के वायरस से लोगों के प्रभावित होने की आशंका को कम किया जा सके.

राजस्थान में इलाज के पुख्ता इंतजाम
राजस्थान के तमाम डॉक्टर्स की छुट्टियां पहले ही रद्द की जा चुकी हैं. तमाम निजी अस्पतालों में भी H1N1 वायरस की मुफ्त जांच के इंतजाम कराए गए हैं. बीमारी के प्रकोप की वजह से लोगों में दहशत बढ़ती जा रही है.

गुजरात में भी संक्रमण
स्वाइन फ्लू का संक्रमण गुजरात में भी तेजी से पैर पसार रहा है. गुजरात में कुल मिलाकर 350 से ज्यादा लोगों में अब तक स्वाइन फ्लू का वायरस पॉजिटिव मिल चुका है. गुजरात का कच्छ स्वाइन फ्लू से सबसे ज्यादा प्रभावित है, जहां अब तक इस बीमारी से 9 लोगों की मौत हो चुकी है. गुरुवार को स्वाइन फ्लू के 61 नए मामले सामने आए, जिनमें से 14 अहमदाबाद के थे.

पंजाब और हरियाणा में भी कहर
स्वाइन फ्लू का वायरस पंजाब और हरियाणा में भी तेजी से फैल रहा है. दोनों राज्यों में कुल मिलाकर अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है. स्वाइन फ्लू की रोकथाम के लिए जहां पंजाब में स्वास्थ्य विभाग ने मुस्तैदी से तैयारियां की हैं, वहीं हरियाणा स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रामनिवास ने राज्य के सभी सिविल सर्जन के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कर जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं.

मुंबई में बीमारी से 4 की मौत
स्वाइन फ्लू का कहर मुंबई में भी है, जहां H1N1 वायरस से प्रभावित 23 मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 4 की मौत हो चुकी है. बीएमसी ने तमाम अस्पतालों में पुख्ता बंदोबस्त करने के अलावा लोगों को जागरूक करने का काम भी शुरू किया है, ताकि खांसी जुकाम और बुखार की शिकायत होने पर तुरंत जांच कराई जा सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×