scorecardresearch
 

हादसों से निजात पाने को एक्शन में रेल मंत्रालय, दक्षिण कोरिया से बुलाई एक्सपर्ट टीम

इन अधिकारियों से भारतीय रेल की जमीनी हकीकत समझने के बाद कोरियाई टीम सेफ्टी एंड सिक्योरिटी का जिम्मा संभालने वाली हाई लेवल रेलवे टीम से भी मुखातिब हुई.

रेल हादसों से निजात की तैयारी रेल हादसों से निजात की तैयारी

देश में आए दिन रेल के पटरी से उतरने वाले हादसो से छुटकारा पाने के लिए भारतीय रेलवे लगातार कोशिश कर रहा है. इस कड़ी में ही दक्षिण कोरिया से आए रेलवे एक्सपर्ट इन दिनों रेलवे के आला अफसरों से भारतीय रेलवे में हो रहे हादसों के बारे में जानकारी ले रहे हैं. दक्षिण कोरिया से आई 6 सदस्यीय एक्सपर्ट टीम राजधानी दिल्ली में रेलवे बोर्ड में मैकेनिकल इंजीनियरों और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरों से मिली.

इन अधिकारियों से भारतीय रेल की जमीनी हकीकत समझने के बाद कोरियाई टीम सेफ्टी एंड सिक्योरिटी का जिम्मा संभालने वाली हाई लेवल रेलवे टीम से भी मुखातिब हुई. सारी बातें सुनने और समझने के बाद दक्षिण कोरिया से आई हुई टीम ने कानपुर और रूरा रेल सेक्शन का मुआयना करने का फैसला किया, यह टीम पुखरायां में रेल हादसे वाली जगह का भी निरीक्षण करेगी.

सुरेश प्रभु ने मांगी मदद
दरअसल बार-बार हो रहे रेल हादसों से परेशान रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने जापान, दक्षिण कोरिया, फ्रांस और इटली की रेलवे से गुहार लगाई थी कि वह उन्हें भारत में हो रहे रेल हादसों को रोकने में मदद करें. प्रभु की इस गुहार के बाद जापान ने अपनी एक्सपर्ट टीम हाल ही में भारत भेजी थी, जापानी एक्सपर्ट टीम ने रेल पटरियों से गाड़ियां उतरने की घटनाओं के बारे में तमाम जानकारी हासिल की है और अब एक बड़ा डेलिगेशन 26 जनवरी को जापान से भारत आ रहा है. जापानी एक्सपर्ट्स की ये टीम भारत में हो रहे रेल हादसों के बारे में अपने सुझाव देगी.

दक्षिण कोरिया की टेक्निकल टीम हाल फिलहाल में हुए रेल हादसों के बारे में तमाम छोटी बड़ी जानकारी हासिल कर रही है और यह टीम रेल हादसों के साक्षी हुए रेलवे अधिकारियों से भी बात कर रही है. रेलवे के मुताबिक दक्षिण कोरिया की टीम रेल हादसे वाली किसी लाइन का अल्ट्रासोनिक फ्रैक्चर डिटेक्शन टेस्ट भी करेगी. इस तरीके का टेस्ट करने के बाद कोरियाई टीम लखनऊ में रेलवे के आरडीएसओ एक्सपर्ट्स के साथ भी विचार-विमर्श करेगी, दक्षिण कोरिया का रेल दुर्घटनाओं के मामले में बहुत अच्छा रिकॉर्ड है और अपने अनुभव को कोरियाई टीम भारतीय रेलवे के साथ साझा भी करेगी.

एक तरफ दक्षिण कोरिया और जापान के एक्सपर्ट भारतीय रेलवे को अपनी बहुमूल्य राय देने की कोशिश में है तो वहीं दूसरी तरफ इटली से रेलवे एक्सपर्ट की टीम 1 फरवरी को भारत आ रही है. इटली की एक्सपर्ट टीम रेल हादसों वाली कई जगहों की विजिट करेगी और उसके बाद रेलवे बोर्ड को अपने सुझाव देगी. इन सबके बीच फ्रांस रेलवे से भी टेक्नीशियंस की एक टीम भारत पहुंचने की योजना बना रही है, जल्द ही फ्रांस की रेलवे एक्सपर्ट की टीम भारत पहुंचेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें