scorecardresearch
 

शरद पवार से ED की पूछताछ पर राहुल ने सरकार को घेरा, बताया-सियासी अवसरवाद

शिवसेना सांसद संजय राउत के बाद पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार के समर्थन में आ गए हैं. राहुल गांधी ने कहा कि महाराष्ट्र में चुनाव से एक महीना पहले इस तरह की कार्रवाई राजनीतिक अवसरवाद की पुनरावृत्ति है.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (फाइल फोटो) कांग्रेस नेता राहुल गांधी (फाइल फोटो)

  • ईडी के सामने शरद पवार की पेशी, सुरक्षा के तहत धारा 144 लागू
  • शिवसेना सांसद ने शरद पवार को बताया राजनीति का भीष्म पितामह

शिवसेना सांसद संजय राउत के बाद पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार के समर्थन में आ गए हैं. राहुल गांधी ने कहा कि सरकार द्वारा निशाना बनाए जाने वाले शरद पवार विपक्ष के नए नेता हैं.

कांग्रेस नेता ने कहा कि महाराष्ट्र में चुनाव से एक महीना पहले इस तरह की कार्रवाई राजनीतिक अवसरवाद की पुनरावृत्ति है. बता दें कि शरद पवार से आज होने वाली ईडी की पूछताछ को लेकर विरोध बढ़ता जा रहा है. विरोध को देखते हुए मुंबई के बलार्ड एस्टेट स्थित ईडी ऑफिस के आस-पास धारा 144 लागू कर दी गई है.

इसके अलावा शरद पवार को लेकर कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने भी ट्वीट किया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी द्वारा राजनीतिक हत्या की कतार में अगले नेता शरद पवार हैं. इसके साथ ही सिंघवी ने बीजेपी पर शायराना अंदाज में तंज भी कसा है. उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'फिर से ईडी के तेवर में ताव है क्या, जरा पता करो महाराष्ट्र में चुनाव है क्या?'

शिवसेना सांसद संजय राउत ने किया शरद पवार का समर्थन

बता दें कि शिवसेना सांसद संजय राउत ने एनसीपी नेता शरद पवार का समर्थन करते हुए उन्हें भारतीय राजनीति के भीष्म पितामह बताया है. उन्होंने कहा कि जिस बैंक में घोटाले को लेकर ईडी ने एफआईआर में पवार का नाम दर्ज किया है, उस बैंक में वह किसी भी पद पर रहे ही नहीं हैं. संजय राउत ने कहा कि पवार से हमारी पार्टी और विचारधारा अलग हैं, लेकिन मैं ये कहूंगा कि ईडी ने उनके साथ गलत किया है.

पवार की पेशी से पहले धारा 144 लागू

शरद पवार शुक्रवार को मुंबई के प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय में हाजिर होंगे. जिसे देखते हुए मुंबई पुलिस ने करीब 7 इलाकों में धारा 144 लागू कर दी है. वहीं शरद पवार ने अपनी पार्टी के समर्थकों और कार्यकर्ताओं से ईडी दफ्तर के आस-पास इकट्ठा ना होने और प्रदर्शन ना करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि जांच एजेंसियों के सहयोग के लिए उन्हेंं पेश होना है.

जानिए किस मामले में ईडी के सामने पेश होंगे पवार?

प्रवर्तन निदेशालय ने पवार और उनके भतीजे अजीत पवार को महाराष्ट्र स्टेट कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड में कई करोड़ के घोटाले के मामले में नामजद किया था, जिसके सिलसिले में वह ईडी कार्यालय में हाजिर होंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें