scorecardresearch
 

व्यंग्य: काढ़ा विद केजरीवाल में अदरक वाली कॉफी का तड़का

राजनीतिक दलों में मामूली कार्यक्रम को भी बिग इवेंट का रूप देने फैशन चल पड़ा है. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दोनों माहिर हैं. दोनों अपने काम में नए-नए आइडिया अप्लाई करते हैं और इसका उन्हें भरपूर फायदा भी मिलता है.

X
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल

राजनीतिक दलों में मामूली कार्यक्रम को भी बिग इवेंट का रूप देने फैशन चल पड़ा है. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दोनों माहिर हैं. दोनों अपने काम में नए-नए आइडिया अप्लाई करते हैं और इसका उन्हें भरपूर फायदा भी मिलता है.

दिल्ली चुनावों के दौरान खुली बहस को लेकर खूब बहस हुई थी. इन दिनों नेताओं में किसानों के हमदर्द बनने की होड़ मची हुई है. नितिन गडकरी ने इस मसले पर सोनिया गांधी और अन्ना हजारे सहित तमाम लोगों को खुली बहस की चुनौती दी है. जैसे ही केजरीवाल को पता चला कि नितिन गडकरी भी ऐसा कुछ प्लान कर रहे हैं, फौरन ही उन्होंने एक बड़े इवेंट की घोषणा कर दी.

आपको याद होगा शपथग्रहण के दौरान केजरीवाल ने ऐलान किया था कि सरकार चलाने में वो किरण बेदी और अजय माकन दोनों की भरपूर सलाह लेंगे. इसी काम के लिए दिल्ली सरकार अब एक खास कार्यक्रम 'काढ़ा विद केजरीवाल' आयोजित करने जा रही है. दिल्ली सचिवालय की ओर से कई नेताओं को निमंत्रण-पत्र भेजे जा चुके हैं. उन्हीं में से दो खास निमंत्रण पत्र हमारे हाथ लगे हैं. दोनों पत्रों के मजमून पर जरा गौर फरमाएं-

[किरण बेदी को मिला दिल्ली सचिवालय का पत्र]
श्रीमती किरण बेदी
पूर्व सीएम कैंडीडेट, दिल्ली बीजेपी
प्रिय महोदया [या महोदय, जैसा आपको पसंद हो]
माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ने शपथग्रहण के अवसर पर घोषणा की थी कि सरकार के संचालन में आपकी महत्वपूर्ण सलाह ली जाएगी. इसी सिलसिले में एक सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित होने जा रहा है जिसका नाम है- 'काढ़ा विद केजरीवाल'. इसमें आपकी उपस्थिति प्रार्थनीय है.

चुनावों के दौरान श्री केजरीवाल जी ने आपको सार्वजनिक बहस के लिए मीडिया के जरिए इनवाइट किया था. इस बारे में आपकी राय थी कि विधानसभा में ही बहस ठीक रहेगी. लेकिन होनी को कौन टाल सकता है. सब खेल नसीब का है. इसमें नसीबवाला भी किसी की मदद नहीं कर सकता. आप विधानसभा पहुंचने से चूक गईं. हम आपको अवगत कराना चाहते हैं कि माननीय मुख्यमंत्री जी अब भी आपको बड़ी बहन बताते हैं और उनकी इच्छा है कि आप उनके साथ मंच साझा करें और सार्वजनिक बहस कर उन्हें अनुगृहित करें.

नोट: इस कार्यक्रम में कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे अजय माकन को भी आमंत्रित किया गया है. आपसे निवेदन है कि शीघ्रातिशीघ्र हमें सूचित करें जिससे कार्यक्रम का दिन, समय और स्थल तय किया जा सके.

[अजय माकन को मिला दिल्ली सचिवालय का पत्र]
सेवा में
श्री अजय माकन
पूर्व सीएम कैंडीडेट, दिल्ली कांग्रेस
प्रिय महोदय,
माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ने शपथग्रहण के अवसर पर घोषणा की थी कि दिल्ली सरकार के संचालन में आपकी महत्वपूर्ण सलाह ली जाएगी. इसी सिलसिले में एक सार्वजनिक कार्यक्रम प्रस्तावित है. इस खास कार्यक्रम का नाम है- 'काढ़ा विद केजरीवाल'. इसमें आपकी अमूल्य उपस्थिति सादर प्रार्थनीय है.

इसके साथ ही आपको अवगत कराया जाता है कि दिल्ली सरकार पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ एफआईआर करवाने जा रही है. सरकार चाहती है कि इस केस में आप सरकारी गवाह बनें और आम आदमी के इंसाफ की लड़ाई में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें.

नोट: इस कार्यक्रम में बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार रहीं किरण बेदी को भी आमंत्रित किया गया है. आपसे निवेदन है कि शीघ्रातिशीघ्र हमें सूचित करें जिससे कार्यक्रम का दिन, समय और स्थल तय किया जा सके.

नोटिस/प्रेस रिलीज
सर्व साधारण को एतद् द्वारा सूचित किया जाता है कि माननीय मुख्यमंत्री जी को खांसी में काफी आराम मिला है. बीते दिनों उनकी प्राकृतिक चिकित्सा के दौरान उन्हें अदरक वाली कॉफी का सेवन करवाया गया. माननीय मुख्यमंत्री जी अब प्रतिदिन चिकित्सकीय सलाह के अनुसार अदरक वाली काफी का नियमित रूप से सेवन कर रहे हैं.

इसके साथ ही जन साधारण को सूचित किया जाता है कि जल्द ही मदर डेयरी के बूथों पर अदरक वाली काफी उपलब्ध होगी. साथ ही दिल्ली सचिवालय में भी 'अदरकवाली चाय' की जगह 'अदरकवाली काफी' सर्व की जाएगी. हालांकि ये फैसला डेल्ही डायलॉग कमीशन द्वारा दिल्लीवासियों के फीडबैक के बाद लिया जा सकेगा.

धन्यवाद.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें